scorecardresearch
 

नशे की लत, चोरी की आदत... बेटे ने ही माता-पिता-बहन और दादी को मार डाला, पालम हत्याकांड की Inside Story

दिल दहला देने वाला मामला दक्षिणी-पश्चिमी दिल्ली के पालम इलाके का है. जहां एक कलयुगी बेटे ने अपने माता-पिता समेत छोटी बहन और दादी को मौत के घाट उतार दिया. मामला मंगलवार देर रात का है, जिसमें 25 वर्षीय आरोपी बेटे केशव ने हंसते-खेलते परिवार को उजाड़ दिया. यूं तो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन उसके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी.

X
आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है
3:15
आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

नशे की लत, चोरी की आदत और घर की रोक-टोक एक परिवार के लिए मौत का कारण बन गई. दक्षिणी-पश्चिमी दिल्ली के पालम इलाके में घटी इस दिल दहला देने वाले हत्याकांड पर किसी के लिए भी यकीन कर पाना आसान नहीं है. मंगलवार रात को कलयुगी बेटे ने अपने माता-पिता समेत छोटी बहन और दादी को मौत के घाट उतार दिया. मृतकों में पिता दिनेश (45), माता दर्शन (40), दादी दीवानों देवी (72) और छोटी बहन उर्वशी (23) शामिल हैं.

25 वर्षीय आरोपी बेटे केशव ने हंसते-खेलते परिवार को उजाड़ दिया. यूं तो आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, लेकिन उसके चेहरे पर अपनी गलती का कोई शिकवा नहीं था.

आरोपी ने घर में अकेली दादी को अपना पहला शिकार बनाया और उनकी गला घोटकर हत्या कर दी. फिर उन्हें बेड पर इस कदर लिटा दिया, मानो वह गहरी नींद में सो रही हों. वहीं जब आरोपी के पिता दिनेश ड्यूटी से घर पहुंचे और फ्रेश होने के लिए बाथरूम में गए तो आरोपी बेटे ने उनपर हमला कर उन्हें भी मौत के घाट उतार दिया.

बाद में मां, दर्शन जब ड्यूटी से घर पर पहुंचीं और उन्होंने दादी को सोता देखा तो वह बेटे के कहने पर बाथरूम में गईं. जहां आरोपी ने उन्हें भी हमेशा के लिए सुला दिया और अंत में जब छोटी बहन उर्वशी घर पहुंची तो वह जब तक मामले को समझ पाती उससे पहले ही भाई ने उसकी भी लीला समाप्त कर दी. 

आरोपी केशव को एक पल के लिए भी यह दया नहीं आई कि जिस मां ने 9 महीने उसे अपनी कोख में रखकर जन्म दिया, वहीं उसके सपनों के लिए जिस पिता ने अपने सपनों को भुला दिया, छोटी बहन, जिसने उसकी कलाई पर राखी बांधी होंगी और वह बुजुर्ग दादी, जिसने न जाने कितनी कहानियां बचपन में सुनाई होंगी, उन सबको केशव ने नशे के लिए एक पल में खत्म कर दिया. इस वारदात को जिसने भी सुना, वह दंग रह गया.

माता-पिता को कई बार दे चुका था धमकी

इस पूरी वारदात का कारण आरोपी केशव द्वारा किए जाने वाले नशे को बताया जा रहा है. आरोपी केशव नशे का आदी है और अक्सर परिवार के साथ लड़ाई झगड़ा करता था. उसके पास न तो कोई नौकरी थी और न कमाने का कोई जरिया. वह हमेशा घर से पैसे लेकर नशा करता था और जब पैसे उसे नहीं मिलते थे तो घर में कलेश करता था. बताया गया है कि अक्सर वह अपने माता-पिता को जान से मारने की धमकी भी देता था. जिसे घर वालों ने कभी गंभीरता से नहीं लिया.

इतना ही नहीं, उसने कई बार घर में चोरियां भी कीं और जब  घर से उसे कुछ नहीं मिलता तो वह बाहर भी चोरी करता था. जिसके चलते कई बार उसके खिलाफ पुलिस में शिकायतें भी हुईं. 

कई बार नशा मुक्ति केंद्र भी जा चुका है आरोपी

केशव की नशे की लत इस कदर बढ़ गई कि घर वालों ने मजबूर होकर उसे कई नशा मुक्ति केंद्र में भी भर्ती कराया था. लेकिन उसका भी कोई फायदा नहीं हुआ. केशव ने 12वीं तक पढ़ाई की थी और नशे की लत के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी. वहीं उसकी छोटी बहन उर्वशी मेडिकल की पढ़ाई कर रही थी.

मृतकों के परिजनों के मुताबिक, वारदात को अंजाम देकर जब केशव भागने लगा तो पुलिस और उनकी मदद से उसे पकड़ा गया. पकड़े जाने पर भी उसके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी. एक बेटा इतना निर्दयी हो सकता है, किसी ने सोचा नहीं था. फिलहाल पालम थाना पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है और आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है. मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें