scorecardresearch
 

दिल्ली के मयूर विहार में बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या, गाजियाबाद में डबल मर्डर

दिल्ली के मयूर विहार इलाके में बीजेपी नेता जीतू चौधरी की गोली मार हत्या कर दी गई है. जब वे अपने घर से बाहर निकले थे, तभी बदमाशों ने उन पर गोली चला दी, जिसमें उनकी मौत हो गई.

X
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जीतू के लिए पहले से धाक लगाए बैठे थे बदमाश
  • जीतू का शव सड़क पर खून से लथपथ हालत में मिला है

राजधानी दिल्ली के मयूर विहार इलाके में बेखौफ बदमाशों ने बीजेपी के जिला मंत्री जीतू चौधरी को गोली मारकर हत्या कर दी. बदमाशों ने वारदात को अंजाम उस वक्त दिया, जब जीतू चौधरी मयूर विहार फेस 3 स्थित अपने आवास सी-2 से बाहर आ रहे थे. बदमाश बीजेपी नेता जीतू चौधरी को मारने के लिए पहले ही घात लगाए बैठे थे. जैसे ही जीतू घर से बाहर आए उन्होंने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं.

वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए. परिवार ने गंभीर हालत में जीतू चौधरी को नोएडा के मेट्रो अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. बताया जा रहा है उन्हें चार से पांच गोलियां लगी हैं. जीतू भाजपा के मयूर विहार जिले में मंत्री थे, उनका कंस्ट्रक्शन का कारोबार भी था. 

दिन दहाड़े बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या होने के बाद पूरे इलाके में खौफ का माहौल है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है. आशंका जताई जा रही है कि जीतू की हत्या किसी आपसी रंजिश के कारण हुई होगी. हालांकि इस मामले पर पुलिस की ओर से कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है.

बताया जा रहा है कि जीतू चौधरी अपने परिवार के साथ घड़ोली डेयरी फार्म में परिवार के साथ रहते थे. जीतू चौधरी के परिवार में पत्नी, दो बच्चों के अलावा दो भाई हैं. जीतू पिछले कई वर्षों से भाजपा से जुड़े हुए थे, जिला मंत्री से पहले वह जिले में प्रवक्ता की जिम्मेदारी संभाल चुके थे.

गाजियाबाद में डबल मर्डर
एक तरफ दिल्ली में बीजेपी नेता की खुलेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई है. तो वहीं राजधानी से सटे गाजियाबाद में डबल मर्डर की घटना हुई है. मामला कविनगर थाना क्षेत्र के वेव सिटी इलाके का है. जानकारी के मुताबिक बुधवार देर शाम वेव सिटी पुलिस चौकी के पास मिले दो शव मिले. शवों को देखकर पहली नजर में ऐसा लग रहा है कि इनकी हत्या गोली मारकर की गई हो.

गौर करने वाली बात यह है कि पुलिस अधिकारियों के मुताबिक वेव सिटी में मर्डर की जानकारी उस वक्त मिली जब पुलिस महानिरीक्षक, मेरठ परिक्षेत्र प्रवीण कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक,गाजियाबाद मय पुलिस बल के साथ अपराध की रोकथाम एंव आमजन में सुरक्षा का भाव जागृत करने के उद्देशय से थाना कौशाम्बी क्षेत्र में पैदल गश्त कर रहे थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें