scorecardresearch
 

Kaimur: 20 साल से फरार कुख्यात डकैत दारोगा लोहार गिरफ्तार

कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया चुनाव को लेकर अपराधियों की धरपकड़ के लिए पुलिस अभियान चला रही है. इसी बीच 20 सालों से फरार चल रहे कुख्यात डकैत दारोगा लोहार को बिहार यूपी के बॉर्डर के पास से गिरफ्तार किया गया है.

20 साल बाद डकैत दारोगा लोहार गिरफ्तार (फोटो आजतक) 20 साल बाद डकैत दारोगा लोहार गिरफ्तार (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैमूर पुलिस को मिली बड़ी सफलता
  • दारोगा पर था पांच हजार का इनाम घोषित
  • 20 साल से फरार कुख्यात डकैत दारोगा

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में सख्ती के चलते आज कैमूर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. कैमूर पुलिस ने 20 वर्षों से फरार चल रहे कुख्यात डकैत दारोगा लोहार को गिरफ्तार कर लिया है. पांच हजार के इनामी दारोगा पर डकैती और फिरौती के लिए अपहरण करने के कई मामले दर्ज हैं.

कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया चुनाव को लेकर अपराधियों की धरपकड़ के लिए पुलिस अभियान चला रही है. इसी बीच 20 सालों से फरार चल रहे कुख्यात डकैत दारोगा लोहार को बिहार यूपी के बॉर्डर के पास से गिरफ्तार किया गया है. 

पांच हजार का इनामी है दारोगा 

गिरफ्तार अपराधी भगवानपुर थाना क्षेत्र के बेल्डी गांव का रहने वाला है. दारोगा लोहार पर पांच हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था. ये पिछले 20 सालों से फरार चल रहा था. 

फिरौती के लिए करता था अपहरण

पुलिस ने बताया कि दारोगा का गिरोह डकैती के साथ-साथ फिरौती के लिए अपहरण भी करता था. इस गिरोह के टारगेट पर बच्चे होते थे. बच्चों का अपहरण करने के बाद उन्हें पहाड़ी क्षेत्रों की गुफाओं में छुपा दिया जाता था. फिरौती नहीं मिलने पर बच्चों को मार दिया जाता था. पुलिस को पूर्व में पहाड़ी क्षेत्र की गुफाओं से बच्चों के कंकाल भी बरामद हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें