scorecardresearch
 

कोडरमा: दोस्त की हत्या के मामले में ट्रेनी DSP गिरफ्तार, परिजन बोले- सट्टेबाजी को लेकर था विवाद

बिहार के बक्सर के ट्रेनी डीएसपी आशुतोष कुमार अपने कुछ दोस्तों के साथ तिलैया डैम पिकनिक मनाने गए थे. यहां आशुतोष की सर्विस रिवॉल्वर से उनके दोस्त निखिल की मौत हो गई. आशुतोष का दावा है कि पिकनिक के दौरान उसके दोस्त सर्विस रिवॉल्वर के साथ फोटो शूट करवा रहे थे. इसी दौरान बंदूक से फायरिंग हो गई. इसमें निखिल कुमार की मौत हो गई.

X
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मृतक के परिजनों का आरोप- साजिश के तहत हुई हत्या
  • पुलिस ने घटनास्थल से बरामद की शराब की खाली बोतलें

दोस्त की हत्या के मामले में पुलिस ने प्रोविजनल डीएसपी आशुतोष कुमार और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया. मृतक निखिल रंजन के पिता ने डीएसपी और उसके दो दोस्तों पर हत्या का मामला दर्ज कराया है. मृतक के परिजनों का आरोप है कि निखिल रंजन और आशुतोष के बीच आईपीएल सट्टेबाजी को लेकर पैसे का लेनदेन था. इसी को लेकर हुए विवाद के बाद निखिल की हत्या की गई. 

क्या है मामला?

दरअसल, बिहार के बक्सर के ट्रेनी डीएसपी आशुतोष कुमार अपने कुछ दोस्तों के साथ तिलैया डैम पिकनिक मनाने गए थे. यहां आशुतोष की सर्विस रिवॉल्वर से उनके दोस्त निखिल की मौत हो गई. आशुतोष का दावा है कि पिकनिक के दौरान उसके दोस्त सर्विस रिवॉल्वर के साथ फोटो शूट करवा रहे थे. इसी दौरान बंदूक से फायरिंग हो गई. इसमें निखिल कुमार की मौत हो गई.

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

उधर, मृतक के पिता ऋषिदेव प्रसाद, जो गया पुलिस में तैनात हैं, उन्होंने आशुतोष पर गंभीर आरोप लगाए. प्रसाद का कहना है कि निखिल और आशुतोष के बीच आईपीएल सट्टेबाजी को लेकर पैसे का लेनदेन था। इसी को लेकर हुए विवाद के बाद आशुतोष ने निखिल को घर से बिहारशरीफ जाने के नाम पर बुलाया. लेकिन तिलैया डैम ले जा कर साजिश के तहत अपनी सर्विस रिवॉल्वर से गोली मार दी. गोली लगने से उसकी मौत हो गई. 

पुलिस को खुद दी जानकारी

गोली लगने के बाद आशुतोष अपने दोस्तों के साथ निखिल को सदर अस्पताल लेकर पहुंचा. यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इसके बाद दोनों निखिल के शव को लेकर कोडरमा थाने पहुंचे और पुलिस को मामले की जानकारी दी.

उच्च स्तरीय जांच की मांग की

निखिल के पिता ने आशुतोष और उसके दो दोस्तों के नाम मामला दर्ज कराया है और इसकी उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. इस मामले में पुलिस ने डीएसपी आशुतोष और उसके दो दोस्तों सौरव कुमार और सूरज को गिरफ्तार किया है. जांच में पुलिस को मौके से शराब की खाली बोतलें भी मिलीं. कोडरमा एसपी डॉ एहतेशाम वकारीब ने बताया कि आरोपियों पर हत्या का केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें