scorecardresearch
 

पहले बांधा हाथ-पैर, फिर मुंह में ठूसा कपड़ा... सास का मर्डर कराने जा रही थी बहू, ऐसे बची जान

उत्तर प्रदेश के औरैया में एक बहू ने अपनी सास को मारने की साजिश रची. बहू ने अपने भाई और बहनोई को बुलाया और सास को किडनैप करा दिया. किडनैपिंग से पहले सास का हाथ-पैर बांधा और उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया. ग्रामीणों ने महिला की जान बचा ली.

X
बुजुर्ग महिला को ग्रामीणों ने बचाया बुजुर्ग महिला को ग्रामीणों ने बचाया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ग्रामीणों ने बुजुर्ग महिला की बचाई जान
  • सास ने अपने बहू को किया माफ

उत्तर प्रदेश के औरैया में एक बहू ने अपनी सास को मारने की साजिश रची थी. उसने अपने भाई और बहनोई के जरिए सास को किडनैप कर लिया. ग्रामीणों ने बुजुर्ग महिला को बंधा देखकर दोनों को रोक लिया और चंगुल से मुक्त कराया. इसके साथ बुजुर्ग मां थाने पहुंची, लेकिन ट्विस्ट उस वक्त हुआ जब सास ने अपनी बहू पर केस दर्ज करने से मना कर दिया.

पूरा मामला फफूंद थाना क्षेत्र के देवरपुर का है, जहां एक बुजुर्ग महिला को दो बाइक सवार हाथ-पैर बांध कर ले जा रहे थे. तभी ग्रामीणों ने बाइक सवारों को रोका और महिला के हाथ-पैर बंधे देखकर उसे मुक्त कराया. उसके मुंह से कपड़ा निकाला तो महिला रोने लगी. इस पूरी घटना की जानकारी तत्काल फफूंद पुलिस को दी गई.

पुलिस से महिला ने बताया कि उसका नाम सिया देवी है. उसका बहू से झगड़ा हो गया था. तभी बहू में अपने भाई सुखवीर और बहनोई दलेल को बुलाकर सास का हाथ-पैर बांधकर मुंह में कपड़ा ठूंस कर नहर में फेंकने का प्लान बनाया. बहू के भाई और बहनोई महिला का हाथ-पैर बांधकर ले जा रहे थे, लेकिन ग्रामीणों की नजर पड़ गई.

घटना सुनाने-सुनाते 65 वर्षीय सिया देवी फफक पड़ीं. इस दौरान महिला थाने की एसएचओ ललिता कुमार ने सिया देवी को खाना खिलाया और फिर महिला के घर के साथ ही मंगलपुर थाने की पुलिस को सूचना दी. महिला का बेटा राकेश और मंगलपुर पुलिस फफूंद पहुंच गई और एफआईआर दर्ज करने की तैयारी शुरू हो गई.

हालांकि, सिया देवी ने अपनी बहू को माफ कर दिया और कोई कार्यवाही करने से मना करने लगी. फिलहाल पुलिस ने अभी कोई मामला दर्ज नहीं किया है, लेकिन पूरी घटना और बहू पर नजर बनाए हुए हैं.

(रिपोर्ट- सूर्या)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें