scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: अबॉर्शन रैकेट के भंडाफोड़, अस्पताल के पीछे मिली शिशु भ्रूण की 54 हड्डियां

महाराष्ट्र में वर्धा के आरवी शहर में महिला डॉक्टर रेखा कदम को गिरफ्तार किया गया था. इस अरोपी डाक्टर को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था. आरोपी डॉ. रेखा कदम के अस्पताल के पिछवाड़े में  खुदाई के लिए तलब किया गया तो भ्रूण के अवशेष के साथ ग्यारा शिशु की खोपडिया, खून से लथपथ कपड़े , एक गर्भथैली ओर 54 शिशु भ्रूण की हड्डियां  मिलने से सनसनी मच गई है.

doctor arrested doctor arrested
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिशु भ्रूण की 54 हड्डियां मिलने से सनसनी
  • अबोर्शन मामले में महिला डॉक्टर हुई थी गिरफ्तार

महाराष्ट्र में वर्धा के आरवी शहर में 13 वर्ष के नाबालिग लड़की का गर्भपात कराने के आरोप में महिला डॉक्टर (रेखा कदम) को गिरफ्तार किया गया था. इस अरोपी डाक्टर को दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था. इस बीच, पुलिस ने उप-जिला अस्पताल के चिकित्सा अधिकारियों की एक टीम के साथ नगर पालिका की टीम को गर्भपात भ्रूण को जब्त करने के लिए आरोपी डॉ. रेखा कदम के अस्पताल के पिछवाड़े में  खुदाई के लिए तलब किया गया था.

खुदाई के दौरान भ्रूण के अवशेष के साथ ग्यारा शिशु की खोपडिया, खून से लथपथ कपड़े , एक गर्भथैली ओर 54 शिशु भ्रूण की हड्डियां  मिलने से सनसनी मच गई है. यहां लगभग तीन से चार घंटे खुदाई का काम चला. पुलिस ने इस सब की वीडियो रेकॉर्डिंग की है. पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के अस्पताल से सारे रिकॉर्ड भी जब्त किए. ये जनकारी जांच अधिकारी ने आजतक को दी है.

आरोपी डॉ. रेखा कदम ने तीस हजार  रुपये में शिकायतकर्ता नाबालिग लड़की का गर्भपात कराया था. लड़की ने आरवी पुलिस से शिकायत दर्ज करवाई थी. पुलिस के मुताबिक पांच महीने की प्रेग्नेंट लड़की और उसके प्रेमी के माता- पिता ने लड़कीं को बहला फुसलाकर गर्भपात करवाया था. लेकिन लड़की के माता पिता को ये बात पता चलने पर उन्होंने नाबालिक लड़की के साथ मिलकर शिकायत करवाई. शिकायत के बाद  पुलिस ने नाबालिक लड़के के साथ उसके माता-पिता और डॉक्टर रेखा कदम को गिरफ्तार किया. गर्भपात के मामले में कुछ भ्रूण के अवशेष जब्त किए गए हैं, जो डीएनए परीक्षण के लिए भेजे जाएंगे.

डॉ रेखा कदम की दो दिन की पीसीआर पूरी होने के बाद बुधवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा है. ये जानकारी जांच अधिकारी ज्योस्ताना गिरी, पुलिस उप निरीक्षक, विशेष सेल आर्वी ने दी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×