scorecardresearch
 

'रेलवे में हम लगवाएंगे तुम्हारी नौकरी', 12 लोगों से दंपति ने ऐसे ठगे 68 लाख रुपये

रेलवे में ग्रेड-4 की नौकरी लगाने का लालच देकर दंपति ने 12 लोगों से 68 लाख रुपये ऐंठ लिए. यह ठगी साल 2019 में की गई थी. लेकिन पुलिस में अब जाकर शिकायत दर्ज करवाई गई है. फिलहाल इस मामले की जांच जारी है.

X
सांकेतिक तस्वीर. सांकेतिक तस्वीर.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • साल 2019 में ऐंठे थे लोगों से 68 लाख रुपये
  • रेलवे में नौकरी लगाने का दिया था झांसा
  • पुलिस ने दंपति के खिलाफ किया केस दर्ज

महाराष्ट्र के नागपुर में पुलिस ने रेलवे में नौकरी देने के नाम पर लोगों से लाखों रुपये ऐंठने वाले दंपति के खिलाफ मामला दर्ज किया है. पुलिस ने बताया कि दंपति ने 12 लोगों को रेलवे में नौकरी का झांसा देकर 68 लाख रुपये ऐंठ लिए. दंपति खुद को भी सेंट्रल रेलवे का अधिकारी बताते थे.

आरोपियों की पहचान आशीष प्रदीप गोस्वामी और उसकी पत्नी कविता के रूप में हुई. दोनों मिलिंद नगर के वठोड़ा में रहते हैं. पुलिस के मुताबिक, आरोपी दंपति ने साल 2019 में लोगों को रेलवे में ग्रेड-4 की नौकरी देने का झांसा देते हुए उनसे 68 लाख रुपये ऐंठे. रुपये देकर लोग इंतजार करते रहे लेकिन उनकी जब रेलवे में नौकरी नहीं लगी तो वे सीधे पुलिस स्टेशन पहुंचे. उन्होंने दंपति के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई.

27 वर्षीय शेखर बोरकर और 11 अन्य लोगों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की. पुलिस ने पाया कि आरोपियों ने सच में ही इन लोगों से ठगी की है, जिसके बाद अब आगे की कार्रवाई की जा रही है.

शेखर ने बताया, ''दंपति ने हमें बताया था कि वे सेंट्रल रेलवे में अधिकारी की पोस्ट पर नौकरी करते हैं. रेलवे में ग्रेड-4 में वे लोग हमारी भी नौकरी लगा सकते हैं. हमने भी उन पर भरोसा करके उन्हें पैसे दे दिए. बाद में जब कई दिनों तक हमारी रेलवे में नौकरी नहीं लगी. तो हमने उनसे बात की. वे टालमटोल करने लगे. बाद में हमें शक हुआ तो हमने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई.''

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें