scorecardresearch
 

Facebook पर दोस्ती, फिर गंदे वीडियो बनाकर लड़कियों को करता था ब्लैकमेल, ऐसे हुआ गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस ने ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो फेसबुक पर लड़कियों से दोस्ती कर उनकी फोटो को एडिट करता. फिर उससे अश्लील वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर पैसे ऐंठता था. उसके मोबाइल से कई लड़कियों के एडिटेड वीडियो मिले हैं. फिलहाल आरोपी से पूछताछ जारी है.

X
पुलिस गिरफ्त में आरोपी. पुलिस गिरफ्त में आरोपी.

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस ने शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया जो कि पहले फेसबुक पर लड़कियों से दोस्ती करता था. फिर बाद में वह उनकी फोटो को एडिट कर अश्लील वीडियो बनाता था. वीडियो बनाने के बाद वो उन्हें ब्लैकमेल कर मोटी रकम वसूलता था. मामला गाजियाबाद के खोड़ा इलाके का है.

पुलिस ने बताया कि आरोपी का नाम निधीश चंद्रन है और मूल रूप से केरल का रहने वाला है. एसपी सिटी द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ एक पीड़िता ने साहिबाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. पीड़िता ने बताया कि निधीश ने पहले उससे फेसबुक पर दोस्ती की. फिर नौकरी दिलाने का झांसा देकर उसके फोटो मंगवाए.

जब लड़की ने फोटो भेज दिए तो निधीश ने उन फोटो को एडिट कर अश्लील वीडियो बनाया. फिर उस वीडियो को दिखाकर लड़की से पैसे मांगने लगा. लड़की ने आरोप लगाया कि निधीश ने उसे कहा कि अगर मैं उसे पैसे नहीं दूंगी तो वह मेरा वीडियो लीक कर देगा.

लड़की की शिकायत पर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी निधीश को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने निधीश के पास कई लड़कियों के वीडियो भी बरामद किए, जिनके जरिए वह उन्हें ब्लैकमेल करता था. आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. उसने बताया कि पैसों के लालच में उसने ये सब किया. इससे पहले भी उसने कई लड़कियों को अपना शिकार बनाया है. फिलहाल आरोपी से पूछताछ कर रही है.

एडिटेड फोटो को वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल
इससे पहले 7 सितंबर को कानपुर में किदवई नगर की युवती की एडिटेड फोटो को वायरल करने की धमकी देकर पांच लाख रुपये की मांग करने वाले शख्स को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था. दरअसल, किदवई नगर निवासी युवती के फेसबुक मैसेंजर पर विशाल शर्मा नाम की आईडी से उसी की एडिट की हुई अश्लील फोटो भेजी गई. यह देख वह दंग रह गई. युवक ने उसको ब्लैकमेल करते हुए कहा कि उसको पांच लाख रुपये दे वरना वह इस फोटो को वायरल कर देगा.

युवती ने 30 अगस्त को किदवई नगर थाने में आईडी के आधार पर केस दर्ज कराया था. किदवई नगर इंस्पेक्टर अशोक कुमार दुबे ने बताया कि मामले में एसटीएफ की मदद ली गई. पता चला कि विशाल शर्मा नाम का फेसबुक एकाउंट ऋषभ नाम से बनी ई-मेल आईडी के जरिये बनाया गया. जब इसको ट्रेस किया गया तो पता चला कि ये फेक है. दौलतपुर अखवालीपुर मल्लावां हरदोई निवासी मोहन सिंह इन फर्जी आईडी का इस्तेमाल कर युवती को ब्लैकमेल कर रहा था. एसटीएफ ने उसको गिरफ्तार कर जेल भेजा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें