scorecardresearch
 

कोर्ट में पेश हुई महिला ने खुद को बताया आसाराम की पत्‍नी

यौन उत्पीड़न के आरोप में जेल में बंद आसाराम के मामले में नया मोड़ आ गया है. जोधपुर की कोर्ट में पेश हुई एक महिला ने खुद को आसाराम की बीवी बताया है. महिला का दावा है कि पांच साल पहले आसाराम से उसकी शादी हुई थी. हालांकि, आसाराम ने इस महिला को मानसिक रूप से बीमार करार दिया है.

X
आसाराम आसाराम

यौन उत्पीड़न के आरोप में जेल में बंद आसाराम के मामले में नया मोड़ आ गया है. जोधपुर की कोर्ट में पेश हुई एक महिला ने खुद को आसाराम की बीवी बताया है. महिला का दावा है कि पांच साल पहले आसाराम से उसकी शादी हुई थी. हालांकि, आसाराम ने इस महिला को मानसिक रूप से बीमार करार दिया है.

महिला ने कोर्ट में कहा, 'आसाराम अवतार हैं. नारायण उनके आश्रम में सीधे स्वर्ग से उतरे हैं और मैं आसाराम की धर्म पत्‍नी भगवती हूं.' जाहिर है जिन आरोपो में आसाराम जोधपुर जेल में कैद है. अब एक महिला का इस तरह से बयान आना आसाराम के नए रूप को उजागर करता है. जहां तक इस महिला की बात है तो खुद का माणक नाम बताने वाली यह महिला करीबन 18 साल पहले आसाराम के आश्रम से जुड़ी. इसके बाद इसका लगातार आसाराम के अहमदाबाद आश्रम में भी आना जाना रहा और उसके बाद इस महिला ने खुद को श्वेत परिधान पहनना शुरू कर दिया. हैरानी की बात यह रही कि अचानक अदालत में आकर इस महिला ने चौंकाने वाली बात कही है.

इस महिला ने चौंकाने वाली एक और बात कही है. महिला का कहना है कि आसाराम भगवान हैं और इन दिनों उन्हें इधर-उधर घूमना पड़ रहा है, यानी जेल की सलाखें आसाराम के लिए कृष्ण की मां देवकी की कोठरी की माफिक है. इतना ही नहीं भगवान को अब राजस्थान में भी गद्दी पर बैठना है और इसके लिए आसाराम के भक्तों को आसाराम को जेल से बाहर निकालना ही मुख्य मकसद है.

लेकिन, आसाराम इस महिला कि बातों से इतेफाक नहीं रखते. आसाराम की मानें तो इस महिला का दिमाग ठीक से काम नहीं कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें