scorecardresearch
 

शीना मर्डर केस: 30 नवंबर तक CBI कस्टडी में रहेंगे पीटर मुखर्जी

शीना बोरा मर्डर केस में मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी के पति पीटर मुखर्जी की सीबीआई कस्टडी 30 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी गई है. सीबीआई के स्पेशल कोर्ट ने यह फैसला दिया है. इस मामले की जांच कर रही सीबीआई पीटर मुखर्जी का लाई डिटेक्टर टेस्ट करना चाहती है. इसके साथ ही सात कंपनियों का पैसा पीटर के सिंगापुर के एक अकाउंट में ट्रांसफर किए जाने की जांच भी की जानी है.

X
पीटर मुखर्जी की सीबीआई कस्टडी 30 नवंबर तक के लिए बढ़ी पीटर मुखर्जी की सीबीआई कस्टडी 30 नवंबर तक के लिए बढ़ी

शीना बोरा मर्डर केस में मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी के पति पीटर मुखर्जी की सीबीआई कस्टडी 30 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी गई है. सीबीआई के स्पेशल कोर्ट ने यह फैसला दिया है. इस मामले की जांच कर रही सीबीआई पीटर मुखर्जी का लाई डिटेक्टर टेस्ट करना चाहती है. इसके साथ ही सात कंपनियों का पैसा पीटर के सिंगापुर के एक अकाउंट में ट्रांसफर किए जाने की जांच भी की जानी है.

सीबीआई द्वारा पूछताछ के लिए दो दिन पहले दिल्ली हेडक्वार्टर ले आए गए पूर्व मीडिया कारोबारी पीटर मुखर्जी को गुरुवार की सुबह वापस मुंबई ले जाया गया था. गुरुवार को ही उनकी सीबीआई कस्टडी समाप्त हो रही थी. उनको सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया. यहां सीबीआई की दलीलें सुनने के बाद मजिस्ट्रेट ने पीटर मुखर्जी को 30 नवंबर तक के लिए उसकी कस्टडी में भेज दिया है.

सीबीआई के हाथ लगे हैं अहम दस्तावेज
सीबीआई ने दावा किया है कि शीना बोरा के मर्डर के पीछे का कारण वित्तीय लेन-देन है. पूछताछ के दौरान पीटर ने अपने और इंद्राणी के कई करोड़ रुपये के निवेश करने की बात का खुलासा किया है. इस मामले में जांच के सिलसिले में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी और दस्तावेज भी हाथ लगे हैं. यह भी कहा जा रहा है कि पीटर जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. ऐसा लगता है कि वह भी साजिश का हिस्सा थे.

अप्रैल, 2012 को हुआ था शीना का मर्डर
बताते चलें कि 19 नवंबर को सीबीआई ने पीटर मुखर्जी को गिरफ्तार किया था. 24 अप्रैल, 2012 में शीना का मर्डर करके उसे दफना दिया गया था. इस मामले में मुख्या आरोपी इंद्राणी मुखर्जी, उसके पूर्व पति संजीव खन्ना और पूर्व ड्राइवर श्यामवर राय पहले से ही जेल में बंद हैं. मुंबई पुलिस से जांच की कमान लेने के बाद सीबीआई की जांच के केंद्र में पीटर और इंद्राणी के कारोबारी रिश्ते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें