scorecardresearch
 

कोरोना से लड़ाई के लिए बढ़ाए जाएंगे स्वास्थ्यकर्मी, पीएम मोदी का बड़ा फैसला

मेडिकल इंटर्न को उनके फैकल्टी की निगरानी में कोविड मैनेजमेंट ड्यूटी पर लगाया जाएगा. MBBS के फाइनल इयर के छात्रों को टेली कंसल्टेशन और मॉनिटरिंग के काम में लगाया जाएगा. ये लोग अपने फैक्लटी की निगरानी में माइल्ड कोविड केस को देखेंगे.  

कोविड से लड़ाई के लिए पीएम मोदी का प्लान (फाइल फोटो) कोविड से लड़ाई के लिए पीएम मोदी का प्लान (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोविड-19 से मुकाबले की तैयारी में जुटे पीएम मोदी
  • स्वास्थ्यकर्मियों की बढ़ाई जाएगी संख्या
  • मेडिकल इंटर्न को भी लगाया जाएगा काम पर

कोरोना महामारी की वजह से हो रही तबाही को देखते हुए पीएम मोदी ने फैसला लिया है कि कोविड 19 के खिलाफ लड़ाई के लिए स्वास्थकर्मियों की उपलब्धता बढ़ाई जाए. NEET-PG की परीक्षा को चार महीनों के लिए स्थगित की जाएगी. वैसे मेडिकल कर्मी जिन्होंने कोविड ड्यूटी करते हुए 100 दिन पूरे कर लिए हैं उन्हें आगामी होने वाली सरकारी भर्ती में प्राथमिकता दी जाएगी.

मेडिकल इंटर्न को उनके फैकल्टी की निगरानी में कोविड मैनेजमेंट ड्यूटी पर लगाया जाएगा. MBBS के फाइनल ईयर के छात्रों को टेली कंसल्टेशन और मॉनिटरिंग के काम में लगाया जाएगा. ये लोग अपने फैक्लटी की निगरानी में माइल्ड कोविड केस को देखेंगे.  

B.Sc./GNM योग्यता प्राप्त नर्सेज को फुल टाइम कोविड नर्सिंग ड्यूटी में लगाया जाएगा. ये सभी नर्स सीनियर डॉक्टर्स और नर्स की निगरानी में काम करेंगी. वैसे मेडिकल कर्मी जो कोविड ड्यूटी करते हुए 100 दिन पूरे करेंगे, उन्हें प्रधानमंत्री द्वारा उत्कृष्ट कोविड नेशनल सर्विस सम्मान दिया जाएगा. 

देश में सोमवार को कोविड-19 के 3,68,147 नए मामले आए, जबकि 3417 और मरीजों की मौत हो गयी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक नए मामलों के साथ संक्रमितों की कुल संख्या 1,99,25,604 जबकि मृतक संख्या 2,18,959 हो गयी है.

देश में एक मई को संक्रमण के रिकॉर्ड 4,01,993 नए मामले आए थे. वहीं दो मई को 3,92,488 मामले सामने आए. देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 34,13,642 हो गयी है जो संक्रमण के कुल मामलों का 17.13 प्रतिशत है. वहीं कोविड-19 से ठीक होने की दर 81.77 प्रतिशत हो गयी है. मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में 1,62,93,003 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि मृत्यु दर 1.10 प्रतिशत हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें