scorecardresearch
 

IIT मद्रास में कोरोना का अटैक, 71 लोग पॉजिटिव, डिपार्टमेंट-लैब-लाइब्रेरी बंद

आईआईटी-मद्रास में कोरोना बम फूटा है. कैंपस के 71 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद लैब, लाइब्रेरी और कई विभागों को बंद कर दिया गया है.

आईआईटी-मद्रास आईआईटी-मद्रास
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 66 स्टूडेंट समेत 71 लोग कोरोना पॉजिटिव
  • किंग इंस्टीट्यूट में चल रहा संक्रमितों का इलाज

आईआईटी-मद्रास में कोरोना बम फूटा है. कैंपस के 71 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद लैब, लाइब्रेरी और कई विभागों को बंद कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि कैंपस में पढ़ने वाले 774 स्टूडेंट में से 66 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसके बाद मेस को बंद कर दिया गया है और स्टूडेंट के रूम में खाना पहुंचाया जा रहा है. 

राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 9 हॉस्टल और एक गेस्ट हाउस कोरोना संक्रमण की चपेट में है. अभी तक 774 में से 408 स्टूडेंट का कोरोना टेस्ट किया गया है, जिसमें से 71 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. संक्रमितों में 66 स्टूडेंट, 4 मेस स्टाफ और एक रेजिडेंट क्वार्टर में रहने वाले शामिल हैं.

आईआईटी मद्रास के मुताबिक, कृष्णा हॉस्टल में 22, यमुना में 20, अलागानंदा में 3, नर्मदा में 3, ताप्ती में 3, कोथावरी में 2, तुंगा में 4, साबरमती में 3, सरस्वती में 5 और गेस्ट हाउस में एक लोग पॉजिटिव मिले हैं. यानी कुल 66 स्टूडेंट पॉजिटिव मिले हैं. कोरोना संक्रमण की शुरुआत 9 तारीख से हुई. इस दिन चार लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी.

आईआईटी प्रशासन का कहना है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मेस को बंद कर दिया गया और स्टूडेंट के रूम में पैक फूड भेजा जा रहा है. इसके साथ ही पूरे कैंपस को सैनिटाइज किया जा रहा है. सभी स्टूडेंट को उनके रूम में क्वारनटीन कर दिया गया है और अधिकतर डिपार्टमेंट और लैब बंद है. 

देखें आजतक LIVE TV 

आईआईटी मद्रास के मुताबिक, सभी संक्रमितों की हालत स्थिर है और उनका किंग इंस्टीट्यूट में इलाज चल रहा है. इसके साथ ही बाकी बचे स्टूडेंट का आज कोरोना सैंपल लिया जाएगा. राज्य स्वास्थ्य विभाग ने सभी शैक्षणिक संस्थानों में कोरोना नियमों का पालन कराने का निर्देश दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें