scorecardresearch
 

'जनवरी से भारत में शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन, अक्टूबर तक सभी को मिल सकती है डोज'

सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि हमें उम्मीद है कि अक्टूबर 2021 तक भारत में सभी का टीकाकरण हो जाएगा, जिसके बाद सामान्य जीवन फिर से शुरू हो सकता है.

X
एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) कोरोना वैक्सीन एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) कोरोना वैक्सीन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला का दावा
  • बोले- जल्द मिल सकता है इमरजेंसी इस्तेमाल का लाइसेंस

भारत में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत अगले साल जनवरी से हो सकती है और अक्टूबर तक सभी देशवासियों को वैक्सीन की खुराक मिल सकती है. यह दावा है सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ अदार पूनावाला का. उनका कहना है कि उनकी कंपनी को इस महीने के अंत तक वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत मिल सकती है.

सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि हमें उम्मीद है कि अक्टूबर 2021 तक भारत में सभी का टीकाकरण हो जाएगा, जिसके बाद सामान्य जीवन फिर से शुरू हो सकता है. उन्होंने कहा, 'इस महीने के अंत तक हमें एक इमरजेंसी लाइसेंस मिल सकता है, लेकिन व्यापक उपयोग के लिए लाइसेंस बाद में मिल सकता है.'

अदार पूनावाला ने कहा कि, 'हमें विश्वास है कि यदि नियामक एक अच्छा संकेत देते हैं, तो भारत का टीकाकरण अभियान जनवरी 2021 तक शुरू हो सकता है. जिस दिन भारतीय आबादी के 20 प्रतिशत लोगों को कोरोनवायरस वायरस का टीका लग गया, उससे आत्मविश्वास और भावनाओं का पुनरुत्थान होगा.'

देखें: आजतक LIVE TV

सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि अगले साल सितंबर-अक्टूबर तक उम्मीद है कि सभी के लिए पर्याप्त टीके होंगे और सामान्य जीवन फिर से पटरी पर लौट आएगा. आपको बता दें कि पिछले दिनों ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा किया था और कोरोना वैक्सीन की तैयारी की समीक्षा की थी.

इस दौरे से पहले सीईओ अदार पूनावाला ने कहा था कि उनकी कंपनी का फोकस है कि एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) की वैक्सीन सबसे पहले भारत में दें. उसके बाद दुनिया के अन्य देशों में सप्लाई करें. सीरम इंस्टीट्यूट एस्ट्राजेनेका दवा कंपनी की वैक्सीन का उत्पादन भारत में कर रही है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें