scorecardresearch
 

Alert: 15 जनवरी तक फॉर्म भरें, कोरोना फंड से 5000 पाएं... रुकिए

ऐसे फर्जी संदेशों को फॉरवर्ड न करें. इस तरह की संदिग्ध वेबसाइट पर अपनी किसी भी तरह की निजी जानकारी साझा न करें. इस तरह की कोई संदिग्ध जानकारी मिले तो उसे पीआईबी के साथ साझा करें.

X
ठगों के झांसे से बचें ठगों के झांसे से बचें
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सरकार नहीं दे रही है किसी कोरोना फंड से पैसा
  • ठगों के झांसे में न पड़ें और अपनी कमाई बचाएं

Fraud Alert: कोरोना महामारी के दौर में ठगी के मामलों में तेजी आई है. साइबर ठगों (Cyber Fraudster) ने कभी ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर तो कभी किसी जरूरी दवा के नाम पर आम लोगों को चूना लगाया. अब इसी तरह का एक और नया मामला सामने आया है, जिसमें एक फॉर्म भरने पर कोरोना फंड से 5 हजार रुपये मिलने का झांसा दिया जा रहा है. सरकार ने ऐसे दावों को गलत बताते हुए लोगों को इनसे सावधान रहने को कहा है.

पीआईबी फैक्टचेक ने एक Tweet कर बताया कि केंद्र सरकार के द्वारा कोरोना फंड के तहत 5 हजार रुपये नहीं दिए जा रहे हैं. ऐसे फर्जी संदेशों को फॉरवर्ड न करें. इस तरह की संदिग्ध वेबसाइट पर अपनी किसी भी तरह की निजी जानकारी साझा न करें. इस तरह की कोई संदिग्ध जानकारी मिले तो उसे पीआईबी के साथ साझा करें.

Tweet में कहा गया, एक फर्जी मैसेज में दावा किया जा रहा है कि भारत सरकार के हेल्थ मंत्रालय के द्वारा कोरोना फंड के तहत 5000 रुपये की धनराशि प्रदान की जा रही है.

दरअसल, लोगों को WhatsApp के माध्यम से ठग ऐसे मैसेज भेज रहे हैं. ऐसे मैसेज में दावा किया जाता है कि सेंडर को कोरोना फंड से 5000 रुपये मिले हैं. आप भी 15 जनवरी तक इसका फायदा उठा सकते हैं. इसके बाद यूजर को सरकारी योजना के नाम से मिलती-जुलती वेबसाइट के लिंक पर विजिट करने को कहा जाता है. वहां ठग फॉर्म के नाम पर महत्वपूर्ण जानकारियां ले लेते हैं और इसके बाद लोगों के बैंक अकाउंट खाली कर देते हैं.

कुछ ही रोज पहले सरकार की ओर से कोरोना वैक्सीनेशन से जुड़ी एक अन्य अफवाह का खंडन किया गया था. उस मामले में अफवाह फैलाई जा रही थी कि वैक्सीन लगवाने से लोग बांझपन का शिकार हो सकते हैं. पीआईबी ने कहा था, एक वीडियो में कोविड-19 और इसकी वैक्सीन से जुड़े कई फर्जी दावे किए जा रहे हैं. ऐसी भ्रामक वीडियो या मैसेज शेयर नहीं करें. देश में लगाई जा रही सभी वैक्सीन सुरक्षित हैं. ऐसे फर्जी संदेशों को फैक्ट चेक के लिए हमारे साथ साझा करें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें