scorecardresearch
 

PM Modi on Ethanol Blending: मोदी सरकार ने किया ये बड़ा काम, अब जल्द सस्ता होगा पेट्रोल!

PM Modi on Ethanol Blending: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बताया कि भारत ने निर्धारित समय से 5 महीने पहले ही पेट्रोल (Petrol) में 10 फीसदी इथेनॉल ब्लेंडिंग का लक्ष्य हासिल कर लिया है.

X
पीएम मोदी बताया कि भारत ने इथेनॉल ब्लेंडिंग में बड़ी उपलब्धि हासिल की है पीएम मोदी बताया कि भारत ने इथेनॉल ब्लेंडिंग में बड़ी उपलब्धि हासिल की है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत ने इथेनॉल ब्लेंडिंग का लक्ष्य पूरा किया
  • पीएम मोदी ने दी देशवासियों को बधाई

विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने (PM Narendra Modi) ने बताया कि भारत ने इथेनॉल ब्लेंडिंग (Ethanol Blending) में बड़ी उपलब्धि हासिल की है. पीएम मोदी ने देशवासियों को बताया कि भारत ने निर्धारित समय से 5 महीने पहले ही पेट्रोल (Petrol) में 10 फीसदी इथेनॉल ब्लेंडिंग के लक्ष्य को हासिल कर लिया है. उन्होंने कहा कि इसके लिए भारत के लोगों को गर्व महसूस करना चाहिए. 

पीएम मोदी ने बताया कि साल 2014 में भारत में सिर्फ डेढ़ प्रतिशत इथेनॉल की पेट्रोल में ब्लेंडिंग होती थी. उन्होंने कहा कि पेट्रोल में इथेनॉल ब्लेंडिंग के लक्ष्य को हासिल करने से तीन फायदे हुए हैं. पहला इससे करीब 27 लाख टन कार्बन एमिशन कम हुआ है. दूसरा,भारत को 41 हजार करोड़ रुपये से अधिक की विदेशी मुद्रा की बचत हुई है.देश के किसानों को इथेनॉल ब्लेंडिंग बढ़ने की वजह से 8 वर्षों में 40 हजार 600 करोड़ रुपये की हुई आय को पीएम मोदी ने तीसरा बड़ा फायदा बताया. पीएम मोदी ने इस उपलब्धि के लिए देश के लोगों, किसानों और तेल कंपनियों के बधाई दी. 

जल्द इथेनॉल से चलेंगे वाहन

हाल ही में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने ऐसे संकेत दिए हैं कि देश में जल्द ही इथेनॉल से चलने वाले वाहन शुरू हो सकते हैं. इसके लिए वे सरकार और कंपनियों के स्तर पर बातचीत को आगे बढ़ा रहे हैं. एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि सरकार ग्रीन और वैकल्पिक ईंधन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए काम कर रही है, जिसमें कंपनियों को भी आगे आना होगा.

किसानों को मिलेगा फायदा

बता दें कि भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा तेल इंपोर्ट करने वाला देश है.अपनी 85 फीसदी डिमांड को पूरा करने के लिए हम विदेशों से तेल के आयात पर निर्भर हैं. इथेनॉल के इस्तेमाल बढ़ने से पर्यावरण के साथ-साथ देश के किसानों के जीवन पर भी बेहतर परिणाम देखने को मिलेगा. इथेनॉल खरीद में बढ़ोतरी से देश के गन्ना किसानों को फायदा मिलेगा.

इतनी होगी बचत

पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच इथेनॉल ब्लेंडिंग के बढ़ने से लोगों को राहत मिलेगी. इथेनॉल के इस्तेमाल को बढ़ावा देने हर लीटर ईंधन के इस्तेमाल पर करीब 20 रुपये की राहत मिलेगी.सरकार ने पेट्रोल में 20% इथेनॉल मिलाने का लक्ष्य 2025 तक रखा है. जाहां तक बात इथेनॉल की कैलोरिक वैल्यू की है तो एक लीटर इथेनॉल करीब-करीब 750-800 मिली लीटर पेट्रोल के बराबर होता है.इस तरह ये ईंधन पर हर लीटर होने वाले खर्च में 20 रुपये की बचत देगा. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें