scorecardresearch
 
यूटिलिटी

रिस्क फ्री रिटर्न के लिए RD में करें निवेश! यहां मिल रहा है सबसे ज्यादा ब्याज

क्या होता है रिकरिंग डिपॉजिट?
  • 1/8

आसान भाषा में सबसे पहले ये जान लेते हैं कि रिकरिंग डिपॉजिट (RD) आखिर होता क्या है. तो RD एक तरीके का खाता होता है जिसमें आपको हर महीने एक निश्चित राशि निश्चित अवधि के लिए जमा करानी होती है. जब आपकी जमा की तय अवधि खत्म हो जाती है तो आपको मैच्योरिटी दे दी जाती है, साथ में ब्याज लाभ भी जोड़कर दिया जाता है.
(Photos: File)

कितने समय की हो सकती है RD?
  • 2/8

अगर आप डाकघर में RD खुलवाते हैं तो आपको कम से कम 3 साल उसे चलाना पड़ता है तभी लाभ मिलता है और मैच्योरिटी 5 साल में होती है. वहीं एसबीआई जैसे सरकारी बैंक में कम से 12 महीने, आईसीआईसीआई जैसे निजी बैंक में 6 महीने और एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक जैसे छोटे बैंक में 3 महीने के लिए भी RD खुलवाई जा सकती है. इस तरह आप अपनी जरूरत के हिसाब से कोई भी अवधि का विकल्प चुन सकते हैं. हां लेकिन आपकी निवेश अवधि के हिसाब से आपकी RD पर मिलने वाले ब्याज में भी अंतर आता है.

कम से कम कितने रुपये डालने होते हैं RD में?
  • 3/8

इसके लिए भी बैंक, डाकघर और स्मॉल फाइनेंस बैंक के अलग-अलग नियम है. जैसे डाकघर में आप न्यूनतम 100 रुपये प्रति महीना के निवेश से RD शुरू कर सकते हैं. तो निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक में ये राशि 500 रुपये महीना है. दूसरी तरफ सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा में न्यूनतम 50 रुपये से भी निवेश शुरू किया जा सकता है. ऐसे में आपके पास अपनी पसंद से कितना रुपया जमा करना है इसे चुनने का भी विकल्प है.

सबसे आसान विकल्प डाकघर में आरडी
  • 4/8

भारत में अधिकतर लोग भविष्य के लिए बचत करने का पाठ सबसे पहले डाकघर की जमा योजनाओं से सीखते हैं. देश के लगभग हर गली-मोहल्ले में डाकघर की पहुंच है और इसलिए अधिकतर लोगों के लिए यहां पर निवेश करना आसान है. ऐसे में डाकघर की RD निवेश का आसान विकल्प हो सकती है. यहां चलाई जाने वाली RD पर आपको 5.8% वार्षिक का ब्याज मिलता है. यह हर तीन महीने आपके खाते में चक्रवृद्धि के तौर पर जुड़ता जाता है. 3 साल RD चलाने के बाद आप उसे तोड़ सकते हैं लेकिन कोई भी निवेश योजना मैच्योरिटी पर ही अच्छा लाभ देती है. यहां RD की मैच्योरिटी 5 साल है.

सरकारी बैंकों से लें RD
  • 5/8

डाकघर के अलावा आप सरकारी बैंकों में भी RD शुरू कर सकते हैं. देश का सबसे बड़ा बैंक SBI एक साल से लेकर दो साल तक की अवधि की RD पर 5%, वहीं  5 से 10 साल तक की अवधि वाली RD पर 5.40% का ब्याज देता है. इसमें भी वरिष्ठ नागरिकों को 0.5% से 0.8% तक का अतिरिक्त ब्याज मिलता है.

इन सरकारी बैंकों में ये हैं RD की ब्याज दरें
  • 6/8

देश के दूसरे प्रमुख सरकारी बैंक पीएनबी में RD पर न्यूनतम 4.40% और अधिकतम 5.30% का ब्याज मिलता है जबकि वरिष्ठ नागरिकों के लिए ये क्रमश: 4.90% से 5.80% तक है. इसी तरह बैंक ऑफ बड़ौदा में ये न्यूनतम 3.70% और अधिकतम 5.25% है. जबकि वरिष्ठ नागरिकों के लिए 0.5% का अतिरिक्त लाभ है.

HDFC, ICICI, Axis Bank में ये है ब्याज दर
  • 7/8

प्राइवेट सेक्टर के बैंक भी RD की पेशकश करते हैं. यहां आप न्यूनतम 500 रुपये महीने के निवेश से RD खोल सकते हैं. HDFC Bank में RD पर न्यूनतम निवेश 3.50% और अधिकतम 5.50% है. वहीं सीनियर सिटिजन्स को 0.5% का अतिरिक्त लाभ मिलता है. इसी तरह आईसीआईसीआई बैंक में भी न्यूनतम ब्याज 3.5% और अधिकतम 5.5% है. जबकि सीनियर सिटिजन्स के लिए क्रमश: 4% और 6.3% है. एक्सिस बैंक इस मामले में थोड़ा बेहतर ब्याज देता है. यहां पर RD के लिए बैंक न्यूनतम 4.40% और अधिकतम 5.75% का ब्याज देता है. वरिष्ठ नागरिकों के लिए ये क्रमश: 4.65% और 6.50% है.

इस स्मॉल फाइनेंस बैंक में पाएं 8% से अधिक ब्याज
  • 8/8

देश में स्मॉल फाइनेंस बैंक का कॉन्सेप्ट नया है. इसलिए अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए ये बैंक ज्यादा आकर्षक ब्याज भी देते हैं. इनमें RD खुलवाने पर आपको 8% से भी अधिक ब्याज मिल सकता है. जैसे एयू स्मॉल बैंक तीन महीने की RD पर न्यूनतम 4% जबकि 5 साल से अधिक की RD पर 6.5% का ब्याज देता है. वरिष्ठ नागरिकों के लिए ये 4.5% और 7% है. इसी तरह जना स्मॉल फाइनेंस बैंक अपने ग्राहकों को न्यूनतम 4% और अधिकतम 7% का ब्यात देता है. जबकि उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक में RD पर न्यूनतम 6.5 और अधिकतम 8% का ब्याज मिलता है. जबकि वरिष्ठ नागरिकों के लिए न्यूनतम 7% और अधिकतम 8.5% है.