scorecardresearch
 
यूटिलिटी

राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो के इस शेयर का दाम एक साल में चार गुना, आपने लिया है क्या?

शेयर बाजार के बिग बुल कहे जाते हैं राकेश झुनझुनवाला
  • 1/6

शेयर बाजार के बिग बुल कहे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो पर सबकी नजर रहती है. राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो के शेयर अक्सर कमाल करते दिख जाते हैं. उनके पोर्टफोलियो का ऐसा ही एक शेयर है नेशनल एल्युमिनियम कंपनी यानी Nalco का. यह भारत सरकार की एक नवरत्न कंपनी है. इस शेयर की कीमत एक साल में चार गुनी हो गई है. (फाइल फोटो)

एक साल में करीब 287 फीसदी का रिटर्न
  • 2/6

पिछले साल 19 अक्टूबर को यह शेयर 31.4 रुपये का था. सोमवार यानी 18 अक्टूबर, 2021 को यह शेयर 13 फीसदी की तेजी के साथ 121.65 रुपये पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान दिन में यह 124.75 रुपये के आसपास पहुंच गया था. इस तरह यह शेयर पिछले एक साल में करीब 287 फीसदी का रिटर्न दे चुका है. (फाइल फोटो)

झुनझुनवाला के पास करीब 1.36 फीसदी हिस्सेदारी
  • 3/6

राकेश झुनझुनवाला ने इस शेयर को अपने पोर्टफोलियो में हाल में शामिल किया है. कंपनी के पुराने शेयरधारकों के डेटा में उनका नाम नहीं है. लेकिन सितंबर, 2021 के कंपनी के शेयरहोल्ड‍िंग पैटर्न के मुताबिक राकेश झुनझुनवाला के पास इस कंपनी के करीब 2,50,00,000 शेयर हैं और इस तरह से उनकी कंपनी में करीब 1.36 फीसदी हिस्सेदारी है. (फाइल फोटो: चंद्रदीप कुमार)

पिछले पांच दिन में लगातार बढ़ा
  • 4/6

पिछले पांच दिन से यह शेयर लगातार बढ़ता दिख रहा है और इस दौरान यह करीब 27 फीसदी बढ़ चुका है  सोमवार को कारोबार के दौरान यह 16 फीसदी की उछाल के साथ 52 हफ्ते की नई ऊंचाई 124.75 रुपये पर पहुंचा था. इसका मार्केट कैप बढ़कर 22,342.63 करोड़ रुपये पहुंच चुका है. (फाइल फोटो)

लगातार पॉजिटिव तिमाही नतीजे
  • 5/6

MarketsMojo के मुताबिक कंपनी का कर्ज इक्विटी अनुपात काफी कम -0.18 गुना है और इसने पिछली चार तिमाहियों से लगातार पॉजिटिव तिमाही नतीजे दर्शाए हैं. पिछले वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनी का नेट प्रॉफिट 1,299.53 करोड़ रुपये का रहा. जून 2021 की तिमाही में कंपनी का नेट प्रॉफिट 347.73 करोड़ रुपये का था. (फाइल फोटो)

 एक नवरत्न सार्वजनिक उद्यम
  • 6/6

Nalco केंद्र सरकार के खान मंत्रालय के तहत आने वाला एक नवरत्न सार्वजनिक उद्यम (CPSE) है. कंपनी मुख्य रूप से माइनिंग, मेटल और पावर सेक्टर में कारोबार करती है. इसमें केंद्र सरकार की 51.28 फीसदी हिस्सेदारी है. (फाइल फोटो: nalcoindia.com) (www.businesstoday.in के इनपुट पर आधारित)