scorecardresearch
 

एसबीआई ने पीएलआर 0.25 प्रतिशत घटाया

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने जुलाई, 2010 से पहले ऋण ले चुके ग्राहकों के लिए बेंचमार्क प्रधान उधारी दर (बीपीएलआर) में 0.25 प्रतिशत की कटौती करने की शनिवार को घोषणा की.

भारतीय स्टेट बैंक भारतीय स्टेट बैंक

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने जुलाई, 2010 से पहले ऋण ले चुके ग्राहकों के लिए बेंचमार्क प्रधान उधारी दर (बीपीएलआर) में 0.25 प्रतिशत की कटौती करने की शनिवार को घोषणा की.

बैंक का नयी बेंचमार्क प्रधान उधारी दर (बीपीएलआर) 14.50 प्रतिशत निर्धारित की गई है. नई दर 27 सितंबर से प्रभावी होगी. इससे पहले, एसबीआई ने 18 सितंबर को न्यूनतम उधारी या आधार दर में इतनी ही कटौती की थी. आधार दर व्यवस्था जुलाई, 2010 में प्रभावी हुई.

एसबीआई के मुख्य महाप्रबंधक (वित्त नियंत्रण) सुनील पंत ने कहा कि 7.81 लाख करोड़ रुपये के घरेलू ऋण में से करीब एक लाख करोड़ रुपये अब भी बीपीएलआर पर आधारित हैं, जबकि शेष आधार दर व्यवस्था पर आधारित है.

मार्जिन पर असर के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ब्याज आय के संबंध में वाषिर्क प्रभाव 250 करोड़ रुपये से नीचे रहेगा क्योंकि आधा वित्त वर्ष बीत चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें