scorecardresearch
 

60 देशों में पड़ताल की रिपोर्ट, यह भारतीय कंपनी महिलाओं के लिए 'Great Place to Work'

Wipro की चीफ कल्चर ऑफिसर सुनीता रेबेका चेरियन ने कहा कि हमें अपने विविध और समावेशी कार्यबल पर गर्व है. एकजुटता की हमारी भावना ही हमारी सफलता की जड़ है, India's Best Workplaces for Women 2022 में टॉप रहना अच्छे प्रदर्शन और समावेशी संस्कृति के चलते मिली सफलता का प्रमाण है.

X
विप्रो महिलाओं के लिए सबसे अच्छी कंपनी
विप्रो महिलाओं के लिए सबसे अच्छी कंपनी

एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि महिलाओं के लिए काम करने के मामले में भारत में सबसे अच्छा ठिकाना (Best Workplace For Women's) विप्रो (Wipro) कंपनी है. सर्वे में कई मानकों के आधार पर जांच-पड़ताल करने के बाद रिशद प्रेमजी (Rishad Premji) के नेतृत्व वाली आईटी दिग्गज को महिलाओं के लिए 'ग्रेट प्लेस टू वर्क' इंडिया की लिस्ट में शीर्ष श्रेणी में रखा गया है. रिपोर्ट कंपनी में महिला कर्मचारियों की संख्या और कंपनी के बारे में इन कर्मचारियों के फीडबैक (Feedback) समेत अन्य मानकों के आधार तैयार की गई है. 

Wipro को सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों में जगह
महिलाओं के लिए सबसे सुरक्षित और बेहतर कार्यस्थल को लेकर यह सर्वे एक ग्लोबल प्लेटफॉर्म ग्रेट प्लेस टू वर्क द्वारा किया गया है. यह प्लेटफॉर्म 6 महाद्वीपों में 60 देशों में कारोबार, नॉन-प्रॉफिट और सरकारी एजेंसियों में जांच पड़ताल कर हर साल करीब 10,000 संस्थानों में वर्क प्लेस की स्थिति की रिपोर्ट तैयार करता है. इस साल की अपनी रिपोर्ट में आईटी दिग्गज Wipro को भारत में महिलाओं के लिए सबसे अच्छे वर्क प्लेस की लिस्ट में ऊपर स्थान दिया गया है. 

महिला कर्मियों ने दिया ये फीडबैक
बिजनेस टुडे पर पब्लिश रिपोर्ट के अनुसार, विप्रो को महिला कर्मचारियों के लिए सबसे अच्छे वर्क प्लेस में इसलिए चुना गया है, क्योंकि इसने विभिन्न डायमेंसन्स में शानदार प्रदर्शन किया है. इनमें कंपनी की वर्क फोर्स (Work Force) में महिला कर्मचारी का कम से कम 10 फीसदी और महिला कर्मचारियों के ओर से कंपनी में काम करने को लेकर दिया गया कम से कम 70 फीसदी पॉजिटिव फीडबैक (Positive Feedback) शामिल है. इसके अलावा आईटी दिग्गज ने दूसरे पहलुओं जैसे वर्क एक्सपीरियंस और लैंगिक समानता समेत सभी मानकों पर बेहतरीन प्रदर्शन किया है. 

एकजुटता की भावना का असर
विप्रो लिमिटेड की इस उपलब्धि पर बात करते हुए कंपनी की चीफ कल्चर ऑफिसर सुनीता रेबेका चेरियन (Sunita Rebecca Cherian) ने कहा कि हम अपने विविध (Diverse) और समावेशी कार्यबल (Inclusive Workforce) पर बहुत गर्व करते हैं. उन्होंने कहा कि एकजुटता की हमारी मजबूत भावना ही हमारी सफलता की जड़ है,  India's Best Workplaces for Women 2022 में टॉप पर होना अच्छे प्रदर्शन और समावेशी संस्कृति के चलते मिली सफलता का एक प्रमाण है. 

मूनलाइट को लेकर भी चर्चा में कंपनी
Best Workplaces for Women 2022 की लिस्ट में जगह बनाने वाली विप्रो एकमात्र भारतीय कंपनी नहीं है, बल्कि और भी कई नाम शामिल हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, विप्रो के अलावा भारत में शिव नादर स्कूल (Shiv Nadar School), डेलॉइट इंडिया (Deloitte India), सिस्को सिस्टम्स (Cisco Systems), टाटा कम्युनिकेशंस (Tata Communications) और इंफोसिस (Infosys) भी महिला कर्मचारियों के लिए सबसे अच्छे कार्यस्थल के तौर पर आगे हैं.

यहां बता दें विप्रो आजकल लगातार एक और मामले में चर्चा में बनी हुई है. दरअसल, देश में मूनलाइटिंग यानी एक नौकरी करते हुए दूसरी जॉब करना का मामला गर्माया हुआ है और रिशद प्रेमजी इस पॉलिसी की खिलाफत कर रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें