scorecardresearch
 

अब इस Bank ने बढ़ाई FD पर ब्याज दर, जानें और कौन-कौन से बैंक करा रहे निवेशकों का फायदा?

FD Interest Hike: एक ओर जहां महंगाई (Inflation) पर काबू पाने के लिए उठाया गया कदम बताते हुए आरबीआई ने रेपो दरों (Repo Rate) में लगातार दो बार वृद्धि करके झटका दिया, तो वहीं अपने ग्राहकों को राहत देते हुए कई बैंक ने एफडी पर मिलने वाली ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है.

X
इस बैंक ने एफडी पर ब्याज दरें बढ़ाईं इस बैंक ने एफडी पर ब्याज दरें बढ़ाईं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीएनबी ने दरों में 10 से 20 बीपीएस की वृद्धि की
  • निवेश का बेहतर विकल्प होता है फिक्स्ड डिपॉजिट

निवेशकों के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) बचत का एक बेहतरीन विकल्प होता है. इसकी मैच्योरिटी अवधि सात दिनों से 10 साल तक होती है. 5 साल के लिए निवेश करने पर सुरक्षित रिटर्न प्राप्त करने के अलावा, धारा 80 सी के तहत टैक्स लाभ का दावा भी किया जा सकता है. कई बैंक अपने एफडी की ब्याज दरों में भी बढ़ोतरी कर रहे हैं. इनमें पीएनबी (PNB), एसबीआई (SBI), आईडीएफसी फर्स्ट बैंक (IDFC First), कोटक महिंद्रा बैंक और केनरा बैंक सहित अन्य बैंक शामिल हैं. 

PNB ने किया इतना इजाफा
एफडी की ब्याज दरों में इजाफा करने की सूची में सबसे ताजा नाम पंजाब नेशनल बैंक (PNB) का है. अपने ग्राहकों को तोहफा देते हुए बैंक ने एफडी पर मिलने वाली ब्याज दरों में 10 से 20 बेसिस प्वाइंट की वृद्धि की है. इस बढ़ोतरी का लाभ 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी (FD) करवाने वाले ग्राहकों को मिलेगा. बैंक की वेबसाइट के मुताबिक, नई दरें 4 जुलाई 2022 से लागू होंगी. 

बढ़कर इतनी हुईं ब्याज दरें
बैंक की ओर से बताया गया है कि बदलाव के तहत एक, दो और तीन वर्ष की अवधि की एफडी पर ब्याज दरें 0.10 से 0.20 फीसदी तक बढ़ाई गई हैं. बैंक सात से 45 दिन की एफडी पर तीन फीसदी और 46 से 90 दिन की एफडी पर 3.25 फीसदी ब्याज दे रहा है. नए बदलाव के तहत बैंक एक से दो साल की एफडी पर 5.20 फीसदी से बढ़ाकर 5.30 फीसदी और तीन से पांच साल की एफडी पर 5.30 फीसदी की जगह 5.50 फीसदी ब्याज देगा. सीनियर सिटीजन को सामान्य नागरिकों से 50 बीपीएस अतिरिक्त ब्याज मिलेगा. 

एसबीआई दे रहा इतना ब्याज
पिछले महीने 14 जून को देश के सबसे बड़े कर्जदाता भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने भी दो करोड़ रुपये से कम की एफडी पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की थी. एसबीआई ने 211 दिन से लेकर तीन साल से कम अवधि की एफडी पर ब्याजड दरें बढ़ाई हैं. इसके अलावा कोटक महिन्द्रा बैंक ने एफडी की ब्याज दरों 10 बेसिस प्वाइंट की वृद्धि की है. इसके तहत 3 वर्ष से लेकर 10 वर्ष से कम की अवधि पर दरें संशोधित की हैं, जो कि 1 जुलाई से लागू कर दी गई हैं. बैंक अब अधिकतम 5.90 फीसदी की दर से ब्याज दे रहा है. 

इन बैंकों ने भी एफडी पर बढ़ाईं दरें
पीएनबी के अलावा हाल ही में जिन बैंकों ने एफडी पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है, उनमें IDFC फर्स्ट बैंक ने एक से पांच साल की अवधि के लिए दो करोड़ से कम की एफडी पर ब्याज दरें बढ़ाई हैं. नई दरें एक जुलाई से लागू की गई हैं. IDFC फर्स्ट बैंक अब तीन साल, एक दिन और पांच साल के निवेश पर अधिकतम 6.50 फीसदी ब्याज दे रहा है. केनरा बैंक ने भी फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दरों में इजाफा करते हुए ग्राहकों को राहत दी है. 

रेपो रेट में 0.90 फीसदी इजाफा
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक के बाद एक लगातार रेपो दर (Repo Rate) में दो बढ़ोतरी करते हुए बड़ा झटका दिया था. सबसे पहले 4 मई 2022 को अचानक बुलाई गई बैठक में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास (Shakti Kant Das) रेपो रेट में 40 बेसिस पॉइंट्स की वृद्धि कर 4 फीसदी से 4.40 फीसदी किया. इसके बाद 8 जून 2022 को हुई एमपीसी की बैठक के बाद रेपो रेट 50 बेसिस प्वाइंट बढ़ाकर 4.90 फीसदी कर दिया गया था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें