scorecardresearch
 

PM Mudra Yojana: लोगों को आसानी से 10 लाख रुपये तक दे रही केंद्र सरकार, इस योजना से मिलेंगे कई फायदे!

PM Mudra Yojana: प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत ग्रामीणों को 50,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक के ऋण आसानी से और बहुत सस्ती ब्याज दरों पर देने की व्यवस्था की गई. इस कर्ज की अवधि एक साल तक के लिए होती है. ऐसे में अगर आप इस कर्ज को समय पर चुकाते रहते हैं तो इस पर लगने वाली ब्याज दर भी माफ कर दी जाती है.

X
PM Mudra Loan Yojana
PM Mudra Loan Yojana
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ग्रामीणों को 50,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक के ऋण
  • ऋण के लिए आवेदन करने के लिए किसी गारंटर की आवश्यकता नहीं

Pradhanmantri Mudra Yojana: भारत की अधिकतर आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है. ऐसे में इन ग्रामीणों का जीवन स्तर बेहतर हो इसके लिए सरकारों की तरफ से तमाम तरह के प्रयास भी किए जाते हैं. वहीं, युवाओं के बीच स्वरोजगार की परंपरा बढ़ाने के लिए साल 2015 में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PM Mudra Yojana) की शुरुआत की गई थी. जिसके तहत गांवों में गैर-कॉर्पोरेट, गैर-कृषि छोटे / छोटे उद्यमों को 10 लाख रुपये तक का लोन दिया जा रहा है.

ब्याज दर कर दी जाती है माफ

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PM Mudra Yojana) के तहत को 50,000 रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक के ऋण आसानी से और बहुत सस्ती ब्याज दरों पर देने की व्यवस्था की गई. ऐसे में अगर आप इस कर्ज को समय पर चुकाते रहते हैं तो इस पर लगने वाली ब्याज दर भी माफ कर दी जाती है. इस योजना के माध्यम से सरकार युवाओं के बीच स्वरोजगार की परंपरा बढ़ाने पर काम कर रही है.

रोजगार की स्थिति को देखते हुए इस योजना को तीन श्रेणियों में बांटा गया है-

- पीएम मुद्रा शिशु ऋण

- पीएम मुद्रा किशोर योजना

- पीएम मुद्रा तरुण योजना

दिया जा चुका है 1,23,425.40 करोड़ रुपये तक का कर्ज

आंकड़ों के अनुसार, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत वित्त वर्ष 2021-22 में अब तक 1,23,425.40 करोड़ रुपये तक का कर्ज दिया जा चुका है. शिशु मुद्रा ऋण योजना के तहत दुकान खोलने, रेहड़ी-पटरी पर व्यापार करने जैसे छोटे-मोटे कामों के लिए किसी व्यक्ति को 50 हजार रुपये तक का कर्ज देने की व्यवस्था की गई है. 

लोन के लिए अप्लाई करना आसान

पीएम शिशु मुद्रा ऋण योजना के तहत ऋण के लिए आवेदन करने के लिए किसी गारंटर की आवश्यकता नहीं है. न ही कोई फाइलिंग चार्ज देना है. अलग-अलग बैंकों में इसकी ब्याज दरें अलग-अलग हो सकती हैं. यह बैंकों पर निर्भर करता है.इस योजना के तहत 9 से 12 प्रतिशत प्रतिवर्ष की ब्याज दर है.

मुद्रा ऋण के लिए आवेदन कैसे करें

मुद्रा लोन लेने के लिए आपको अपने नजदीकी बैंक में जाना होगा. कुछ बैंकों ने तो अपने ग्राहकों के लिए ऑनलाइन सुविधाएं भी मुहैया कराई हैं. ऋण और मुद्रा योजना के बारे में अधिक जानकारी https://www.mudra.org.in/ पर भी विजिट किया जा सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें