scorecardresearch
 

PNB Scam: नीरव मोदी का साला देगा कई जरूरी जानकारियां, जांच में ED को मिलेगी मदद

देश से फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) का साला मयंक मेहता अब सरकारी गवाह बन गया है. वह जांच में मदद के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ED) को कई अहम जानकारियां देगा. पढ़ें पूरी खबर...

नीरव मोदी (File Photo) नीरव मोदी (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ‘अदालत ने रद्द किए सभी गैर-जमानती वारंट’
  • ‘50,000 रुपये का निजी मुचलका भरने का आदेश’
  • ‘ED की अनुमति के बिना नहीं जा सकते विदेश’

भगौड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी का साला मयंक मेहता जांच में मदद के लिए ED को कई अहम जानकारियां देगा. मनी लॉन्ड्रिंग की विशेष अदालत ने मेहता के खिलाफ जारी सभी गैर-जमानती वारंट रद्द कर दिए हैं.

मनी लॉन्ड्रिंग (PMLA) मामलों की विशेष अदालत के जज वी. सी. बारड़े ने मंगलवार को मेहता के अदालत में पेश होने के बाद उनके खिलाफ जारी किए गए सभी गैर-जमानती वारंट को रद्द कर दिया. साथ ही मेहता को को 50,000 रुपये का नकद मुचलका भरने का आदेश दिया.

ED को बताए बिना नहीं जा सकते विदेश

अदालत ने ये भी कहा कि अगर मेहता को विदेश जाना है तो उन्हें पहले अदालत से अनुमति लेनी होगी. हालांकि इस पर मेहता के वकील ने आपत्ति जताई और कहा कि ED जब भी उन्हें हाजिर होने के लिए कहेगी, तब वो उसके सामने हाजिर होंगे. इस पर अदालत ने सहमति दी और कहा कि मेहता ED को बताए बिना विदेश नहीं जा सकते. वहीं ED या अदालत जब भी बुलाएंगे तो उन्हें हाजिर होना होगा.

मेहता बने सरकारी गवाह

मयंक मेहता और उनकी पत्नी पूर्वी ने नीरव मोदी के खिलाफ चल रही ED की जांच मामले में विशेष अदालत से आरोपी से सरकारी गवाह बनने की याचिका दी थी. इसके बदले में उन्होंने उनके खिलाफ जारी सभी गैर-जमानती वारंट को रद्द करने की मांग रखी थी. अदालत ने मेहता दंपत्ति के खिलाफ ये वारंट 2018 में जारी किए थे. इसके अलावा पूर्वी के खिलाफ इंटरपोल ने भी एक रेट कॉर्नर नोटिस जारी किया है.

इस साल फरवरी में मेहता ने अदालत में सरकारी गवाह बनने और अपने खिलाफ गैर-जमानती वारंट रद्द करने की अलग-अलग याचिका दायर की थी. अप्रैल में अदालत ने उनके खिलाफ वारंट को रद्द करने से मना कर दिया था लेकिन उसे होल्ड पर डाल दिया था. वहीं मेहता को ED को मामले से जुड़ी सभी जानकारी देने और इससे जुड़े सभी लोगों और रिश्तेदारों का अता-पता बताने के बाद सरकारी गवाह बनने की इजाज़त दे दी थी. 

मेहता को डर था कि उनके भारत आते ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा. लेकिन अदालत के आश्वासन के बाद सिर्फ मेहता भारत लौटे और ED को जांच में सहयोग करने और सभी जानकारी देने पर हामी भरी.

भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर उनके मामा मेहुल चौकसी के साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की ऋण धोखाधड़ी करने का आरोप है. नीरव मोदी फिलहाल लंदन की एक जेल में हैं.

ये भी पढ़ें:

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें