scorecardresearch
 

दूध-दही वाली कंपनी पर IT की दबिश, मिली 400 करोड़ की काली कमाई!

IT Raid: इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने यह छापेमारी 25 नवंबर को शुरू की. इसमें 400 करोड़ रुपये से अधिक की काली कमाई का पता चला है. विभाग को कई करोड़ के गहने और नकदी भी मिली है.

कई दिनों से चल रही थी छापेमारी (फाइल फोटो) कई दिनों से चल रही थी छापेमारी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डेयरी फार्मिंग और दुग्ध उत्पादों से जुड़ी है कंपनी
  • कई करोड़ की नकदी और गहने भी मिले

आयकर विभाग (Income Tax Department) ने डेयरी फार्मिंग (Dairy Farming) और दुग्ध उत्पादों (Milk Products) से जुड़ी पुणे की एक कंपनी पर छापेमारी (Search And Seizure Operation) की है. आयकर विभाग ने 25 नवंबर को शुरू हुई इस कार्रवाई के तहत छह शहरों के 30 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की. इसमें 400 करोड़ रुपये से अधिक के बेहिसाबी इनकम (Unaccounted Income) का पता चला है.

आयकर अधिकारियों को मिले हैं कई संदिग्ध दस्तावेज

छापेमारी के दौरान कई संदिग्ध दस्तावेज जब्त किए गए और कर चोरी (Tax Evasion) के सबूत भी सामने आए. ये सबूत बोगस खरीद, बेहिसाबी नकदी बिक्री, नकदी लोन और उसकी किस्तों का भुगतान, बेहिसाबी जमा आदि से जुड़े हैं. इनके अलावा पशुओं की बिक्री या मौत के नाम पर गलत दावे भी पकड़ में आए हैं. इन सबूतों के शुरुआती आकलन से कर चोरी का साफ पता चलता है.

इतने करोड़ की नकदी और गहने जब्त

सबूतों से यह भी पता चला है कि संबंधित कंपनी ने टैक्सेबल इनकम (Taxable Income) से डिडक्शन के दावे (Deduction Claim) करने के लिए अलग एवं उपयुक्त बही-खाते मेंटेन नहीं किया है. आयकर विभाग ने इस कार्रवाई में करीब 2.50 करोड़ रुपये की बेनामी नकदी और जेवर को जब्त किया है. छापेमारी में 400 करोड़ रुपये से अधिक के बेनामी इनकम की भी जानकारी मिली है.

अभी जारी है आयकर विभाग की जांच
 
पुणे स्थित संबंधित डेयरी कंपनी के खिलाफ इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (IT Department) की आगे की कार्रवाई अभी जारी है. डिपार्टमेंट अभी आगे की जांच कर रहा है. जब्त किए गए सबूतों और दस्तावेजों का आकलन जारी है. कुछ बैंक लॉकर (Bank Locker) भी अभी खोले नहीं गए हैं. इनके खुलने पर बेनामी संपत्ति का आंकड़ा और बढ़ सकता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×