scorecardresearch
 

SpaceX Fired Employees: इस कंपनी के एम्प्लॉइज ने की 'बॉस की बुराई', धोना पड़ा नौकरी से हाथ!

कर्मचारियों को नौकरी से उस दिन निकाला गया, जिस दिन एलन मस्क ने ट्विटर के कर्मचारियों से पहली बार बात की. हाल ही में टेस्ला ने 44 अरब डॉलर का ऑफर देकर Twitter को खरीदने की डील की थी. एलन मस्क ट्विटर की पॉलिसी के भी मुखर आलोचक रहे हैं, खासकर के फेक अकाउंट को लेकर.

X
स्पेसएक्स के एम्प्लॉइज की गई नौकरी स्पेसएक्स के एम्प्लॉइज की गई नौकरी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्पेसएक्स के ईमेल से हुआ खुलासा
  • बॉस के ट्वीट से मुसीबत और भी

कॉरपोरेट वर्ल्ड में एक बात कही जाती है - बॉस इज ऑलवेज राइट! यानी एम्पलॉइज का बॉस जो कहे, वो हमेशा सही होता है. अगर आप उसकी आलोचना करते हैं, तो उसका परिणाम अच्छा नहीं आता. यही हुआ रॉकेट शिप बनाने वाली एक कंपनी SpaceX के साथ, जब उसके कुछ एम्प्लॉइज ने ओपन लेटर लिखकर अपने बॉस की 'बुराई' (आलोचना) की, तो उन्हें नौकरी से हाथ धोना पड़ा.

अब आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कौन सा बॉस है? यहां हम आपको बता दें कि हम बात कर रहे हैं दुनिया के सबसे अमीर इंसान एलन मस्क (Elon Musk) की, जो इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी Tesla के फाउंडर हैं और स्पेसएक्स उन्हीं की कंपनी है. आखिर ये पूरा मामला क्या है...

स्पेसएक्स के ईमेल से हुआ खुलासा
दरअसल इस पूरे मामले का खुलासा हुआ SpaceX के प्रेसिडेंट Gwyne Shotwell के एक ई-मेल से. न्यूयॉर्क टाइम्स ने इस बारे में सबसे पहले खबर दी कि इस ई-मेल में उन एम्प्लॉइज को नौकरी से निकाल देने का जिक्र है, जिन्होंने एलन मस्क के आचार-व्यवहार की आलोचना वाला खुला पत्र लिखा था. हालांकि कितने कर्मचारियों की नौकरी गई, इसका खुलासा नहीं हो पाया है.

एलन मस्क के ट्वीट बने वजह
एम्प्लॉइज के ओपन लेटर में एलन मस्क के कुछ ट्वीट की आलोचना की गई. कहा गया है कि इन ट्वीट की वजह से कंपनी की छवि खराब हुई है. इसे लेकर प्रेसिडेंट शॉटवेल ने जो ई-मेल भेजा है, उसमें एक बात साफ कर दी गई कि कंपनी को अपने 'बॉस की बुराई' नागवार गुजरी और उसे लगता है कि एम्प्लॉइज ने अपनी 'लाइन क्रॉस' की है. 

कर्मचारियों को नौकरी से उस दिन निकाला गया, जिस दिन एलन मस्क ने ट्विटर के कर्मचारियों से पहली बार बात की. हाल ही में टेस्ला ने 44 अरब डॉलर का ऑफर देकर Twitter को खरीदने की डील की थी. एलन मस्क ट्विटर की पॉलिसी के भी मुखर आलोचक रहे हैं, खासकर के फेक अकाउंट को लेकर.

ट्वीट से मुसीबत और भी
हालांकि एलन मस्क के ट्वीट (Elon Musk Tweet) उनके लिए और भी मुसीबत की वजह हैं. हाल में एक व्यक्ति ने डोजेकॉइन को लेकर एलन मस्क के ट्वीट करने को लेकर उनसे 258 अरब डॉलर ( करीब 20,13,730 करोड़ रुपये) का हर्जाना मांगा है. मैनहैटन की फेडरल कोर्ट में कीथ जॉनसन नाम के एक व्यक्ति ने डोजेकॉइन में निवेश से हुए नुकसान की भरपाई के लिए याचिका दायर की है.

ये भी पढ़ें:  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें