scorecardresearch
 

रेगुलेशन की चिंता से उबर रहे निवेशक! आज ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसी हरे निशान में 

Bitcoin Price Today, 25th Nov 2021: क्रिप्टोकरेंसीज में मंगलवार और बुधवार को भारी गिरावट देखी गई थी. लेकिन ऐसा लगता है कि निवेशकों की चिंता कुछ कम हुई है. गुरुवार को भारतीय एक्सचेंजों पर ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसीज हरे निशान में दिख रही हैं. 

ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसी हरे निशान में (फाइल फोटो: Getty Images) ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसी हरे निशान में (फाइल फोटो: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पि‍छले दो दिनों में दिखी थी गिरावट
  • आज क्रिप्टोकरेंसीज में राहत है

Cryptocurrency Price 25th Nov 2021: मोदी सरकार क्रिप्टोकरेंसी पर सख्ती के लिए एक बिल संसद में पेश करने जा रही है. इस खबर के आने के बाद मंगलवार और बुधवार को क्रिप्टोकरेंसीज में भारी गिरावट देखी गई थी. लेकिन कल आई कई खबरों से ऐसा लगता है कि निवेशकों की चिंता कुछ कम हुई है. गुरुवार को भारतीय एक्सचेंजों पर ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसीज हरे निशान में दिख रही हैं. 

wazirx.com के मुताबिक गुरुवार सुबह 10 बजे के आसपास बिटकॉइन (Bitcoin) 7.3 फीसदी की तेजी के साथ 43,85,00 रुपये, Shiba Inu(SHIB) करीब 12 फीसदी की तेजी के साथ 0.003157 रुपये पर, सैंड (SAND) करीब 32 फीसदी की तेजी के साथ 587 रुपये पर,  Ethereum (ETH) करीब 13 फीसदी तेजी के साथ 3,27,667 रुपये पर और  डॉजकॉइन (DOGE) करीब 11 फीसदी की तेजी के साथ 16.71 रुपये पर कारोबार कर रहा था. 

पिछले दो दिन में आई थी भारी गिरावट

गौरतलब है कि भारत सरकार क्रिप्टो करेंसी पर शिकंजा कसने की तैयारी में है. सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में इस बारे में बिल लेकर आ रही है. ऐसी खबरें आते ही मंगलवार को सभी प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी धड़ाम हो गईं. ज्यादातर में 15 फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखी गई. इसके बाद बुधवार को भी भारतीय एक्सचेजों पर क्रिप्टोकरेंसीज में भारी गिरावट देखी गई.

शीतकालीन सत्र में आएगा बिल 

खबर है कि सभी क्रिप्टो करेंसी पर सख्ती के लिए सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में 'द क्रिप्टो करेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिसियल डिजिटल करेंसी बिल 2021' (The Cryptocurrency & Regulation of Official Digital Currency Bill, 2021) लाएगी.

क्रिप्टो करेंसी तकनीक के इस्तेमाल में राहत देने के लिए ही सरकार इस बिल में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की ओर से सरकारी डिजिटल करेंसी चलाने के लिए फ्रेमवर्क का प्रावधान रखेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें