scorecardresearch
 

फिर दो महीने की मोहलत, अब 30 नवंबर तक फाइल करें अपना ITR

अब टैक्सपेयर्स 30 नवंबर तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल कर सकेंगे. पहले इसकी अंतिम तारीख 30 सितंबर तय की गई थी. 

आयकर रिटर्न आयकर रिटर्न
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना संकट की वजह से डेडलाइन में तीसरी बार बढ़ोतरी
  • पहले ITR फाइल करने की अंतिम तारीख 31 मार्च थी
  • 30 नवंबर के बाद ITR फाइल करने पर जुर्माना

कोरोना संकट की वजह से केंद्र सरकार ने एक बार फिर आयकरदाताओं को बड़ी राहत दी है. अब टैक्सपेयर्स 30 नवंबर तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइल कर सकेंगे. पहले इसकी अंतिम तारीख 30 सितंबर तय की गई थी. 

दरअसल, आकलन वर्ष 2019-20 के लिए निर्धारित और संशोधित आईटीआर की फाइल करने की अंतिम तारीख बढ़ाकर 30 नवंबर, 2020 कर दी गई है. पहले आईटीआर फाइल करने की अंतिम तारीख 31 मार्च थी, लेकिन कोरोना संकट की वजह से डेडलाइन को तीन बार बढ़ाया जा चुका है. अब आयकरदाताओं को दो और महीने का वक्त मिल गया है, जिसके बाद लोग आसानी से अब 30 नवंबर से पहले अपना ITR फाइल कर पाएंगे. 

टैक्सपेयर्स को बड़ी राहत

CBDT का कहना है कि कोरोना संकट की वजह से लोगों को ये राहत दी गई है. CBDT ने बताया कि 1 अप्रैल 2020 से 29 सितंबर 2020 तक 33.54 लाख टैक्सपेयर्स के 1,18,324  करोड़ रुपये रिफंड किए गए. जिसमें 32,230 करोड़ रुपये आयकरदाताओं के और 86,094 करोड़ रुपये कॉरपोरेट टैक्स के रूप में रिटर्न किए गए.

CBDT के मुताबिक 30 नवंबर के बाद ITR फाइल करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा. अगर इस डेडलाइन तक आपने आयकर रिटर्न नहीं फाइल की तो परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

गौरतलब है कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने वाले टैक्सपेयर्स के लिए नया 26AS फॉर्म जारी किया गया है. आयकर विभाग द्वारा जारी नए फॉर्म से रिर्टन भरना और आसान हो गया है. आईटीआर दाखिल करते समय आय के सभी स्रोतों का उल्लेख करना आवश्यक है, इसके अलावा कोई गलत जानकारी ना दें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें