scorecardresearch
 

Adani Wilmar IPO: 10 प्वाइंट में जानिए इस आईपीओ से जुड़ी हर जरूरी बात

Adani Wilmar IPO: यह कंपनी Fortune ब्रांड के नाम से सरसों तेल, रिफाइंड ऑयल, बेसन और आटा जैसे प्रोडक्ट्स मार्केट में बेचती है. कंपनी इस आईपीओ के जरिए 3,600 करोड़ रुपये जुटाएगी.

X
यह आईपीओ 27 जनवरी को खुलेगा यह आईपीओ 27 जनवरी को खुलेगा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 31 जनवरी तक है सब्सक्रिप्शन की तारीख
  • रिटेल इंवेस्टर्स के लिए 35% शेयर हैं रिजर्व

Adani Wilmar के आईपीओ (Adani Wilmar IPO) का निवेशक लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं. यह कंपनी Fortune ब्रांड के नाम से सरसों तेल, रिफाइंड ऑयल, बेसन और आटा जैसे प्रोडक्ट्स मार्केट में बेचती है. कंपनी इस आईपीओ के जरिए 3,600 करोड़ रुपये जुटाएगी. कंपनी के शेयर NSE और BSE पर लिस्ट होंगे. इस Initial Public Offer से जुड़ी अधिकतर जानकारी सामने आ गई है. आइए 10 प्वाइंट्स में कंपनी के ऑफर के बारे में जानते हैंः

1. Adani Wilmar IPO Subscription Date: इस कंपनी का IPO 27 जनवरी, 2022 को  सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. इस आईपीओ को सब्सक्राइब करने की आखिरी डेट 31 जनवरी, 2022 है. 
2. Adani Wilmer IPO Price Band: कंपनी ने इस आईपीओ के लिए प्राइस बैंड तय कर दिया है. इस आईपीओ का प्राइस बैंड 218-230 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है.      
3. लॉट साइजः अगर आप इस आईपीओ के लॉट साइज (Adani Wilmar IPO lot size) की बात करें तो एक लॉट में कंपनी के 65 शेयर शामिल होंगे. इस तरह अपर प्राइस बैंड से देखा जाए तो एक लॉट के लिए आपको 14,950 रुपये का इंवेस्टमेंट करना होगा. कोई भी रिटेल इंवेस्टर कम-से-कम एक और अधिक से अधिक 13 लॉट के लिए अप्लाई कर सकता है. 
4. IPO का साइज (Adani Wilmar IPO Size): कंपनी का लक्ष्य इस आईपीओ के जरिए 3,600 करोड़ रुपये जुटाना है. इस कंपनी में प्रमोटर्स और मौजूदा शेयरहोल्डर ओएफएस के जरिए शेयरों की बिक्री नहीं करेंगे. इस आईपीओ का 50 फीसदी हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीच्युशनल बायर्स (QIBs) के लिए रिजर्व है. वहीं, नॉन-इंस्टीच्युशनल बायर्स के लिए 15 फीसदी हिस्सा आरक्षित है. वहीं ऑफर का 35 फीसदी हिस्सा खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित है. कंपनी ने 107 करोड़ रुपये के शेयर अपने पात्र कर्मचारियों के लिए रिजर्व किए हैं जिन्हें Bidding के दौरान प्रति शेयर 21 रुपये का डिस्काउंट मिलेगा.
5. IPO की रकम का यूटिलाइजेशनः Adani Wilmar ने बड़े पैमाने पर मर्जर और एक्विजिशन की योजना बनाई है. आईपीओ के जरिए प्राप्त 1,900 करोड़ रुपये का इस्तेमाल पूंजीगत व्यय के लिए किया जाएगा. 1,100 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कर्ज चुकाने के लिए किया जाएगा. कंपनी रणनीतिक अधिग्रहण और निवेश के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च करेगी.  
6. अलॉटमेंट की डेट (Adani Wilmar IPO Allotment Date): अभी तक की जानकारी के मुताबिक संभावित तौर पर 3 फरवरी, 2022 को शेयरों का आवंटन हो सकता है. चार फरवरी से रिफंड की उम्मीद की जा सकती है. वहीं सात फरवरी, 2022 को शेयरों के पात्र निवेशकों के डिमैट अकाउंट में क्रेडिट होने की उम्मीद की जा रही है. 
7. लिस्टिंग की डेट (Adani Wilmar IPO Listing Date): कंपनी के शेयर 8 फरवरी, 2022 को शेयर बाजारों में लिस्ट हो सकते हैं.
8. ये हैं बुक मैनेजर और रजिस्ट्रारः कोटक महिंद्रा कैपिटल, जेपी मॉर्गन इंडिया, BofA Securities India, Credit Suisse Securities (India), आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, एचडीएफसी बैंक और बीएनपी पैरिबस इस इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं. वहीं लिंक इनटाइम इंडिया इस इश्यू की रजिस्ट्रार है.
9. कंपनी के बारे में जानिएः अहमदाबाद बेस्ड Adani Wilmar असल में गौतम अडाणी की अगुआई वाले अडाणी समूह और सिंगापुर स्थित Willmar Group का ज्वाइंट वेंचर है. कंपनी में इन दोनों समूहों की 50:50 प्रतिशत हिस्सेदारी है. यह कंपनी Fortune ब्रांड के नाम से खाद्य तेलों और अन्य प्रोडक्ट्स बेचती है. 
10. ग्रुप की ये कंपनियां भी हैं लिस्टेड: वर्तमान में अडाणी समूह (Adani Group) की छह कंपनियां शेयर बाजारों में लिस्टेड हैं. इनमें अडाणी इंटरप्राइजेज, अडाणी ट्रांसमिशन, अडाणी ग्रीन एनर्जी, अडाणी पावर, अडाणी टोटल गैस और अडाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन शामिल हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें