scorecardresearch
 

बजट में स्टार्टअप को नई उड़ान? टैक्स में बड़ी छूट के आसार

आने वाले बजट में स्टार्टअप को मिनिमम वैकल्पिक टैक्स से छूट देने के सुझाव को भी वित्त मंत्रालय के सामने रखा गया है. वाणिज्य मंत्रालय स्टार्टअप में आने वाली कानूनी अड़चनों को दूर करने के लिए भी लगातार काम कर रहा है.

X
स्टार्टअप को मिलेगा तोहफा ! स्टार्टअप को मिलेगा तोहफा !

देश में चल रही चुनावी सरगर्मी के बीच सभी की नजरें 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट पर भी टिकी हैं. यह पहली बार होगा कि जब बजट चुनावों के कुछ दिन पहले ही पेश होगा. इस बजट से हर सेक्टर को कई उम्मीदें बंधी हैं. देश में लगातार जोर पकड़ रहे स्टार्टअप कंपनियों को इस बार के बजट में विशेष छूट मिलने की संभावना हैं.

मीडिया रिपोर्टस् के मुताबिक वाणिज्य एवं उघोग मंत्री निर्मला सीतारमण ने स्टार्टअप कंपनियों को टैक्स में छूट दिए जाने के संकेत दिए हैं. वाणिज्य मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय से स्टार्टअप कंपनियों के लिए टैक्स छूट की अवधि 3 साल से बढ़ाकर 7 साल करने की मांग की है.

निर्मला सीतारमण के मुताबिक स्टार्टअप के लिए टैक्स को लेकर कई काम हो चुके हैं और कई पर काम होना अभी बाकी है, उन्होंने कहा कि अब देखने वाली बात यह होगी कि बजट में स्टार्टअप कंपनियों के लिए क्या होता है. आने वाले बजट में स्टार्टअप को मिनिमम वैकल्पिक टैक्स से छूट देने के सुझाव को भी वित्त मंत्रालय के सामने रखा गया है. वाणिज्य मंत्रालय स्टार्टअप में आने वाली कानूनी अड़चनों को दूर करने के लिए भी लगातार काम कर रहा है.

गौरतलब है कि पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टार्टअप बिजनेस के लिेए टैक्स में छूट के अलावा पेटेंट फीस में 80 प्रतिशत छूट की घोषणा की थी. पिछले बजट में इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए अटल इनोवेशन मिशन की भी शुरुआत की गई थी, जिसके तहत 500 करोड़ का फंड रिलीज़ किया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें