scorecardresearch
 

बजट-2017: टैक्स में कमी चाहता है कंज्यूमर सेक्टर

अरुण जेटली ने अपने दूसरे बजट भाषण में टैक्‍स प्रोत्साहनों को धीरे-धीरे खत्म करने तथा कॉरपोरेट टैक्‍स की दर को 30 से घटाकर 25 प्रतिशत करने की घोषणा की थी. हालांकि इस दिशा में सरकार ने कोई कदम अभी नहीं उठाया है.

X
टैक्स में मिलेगी छूट ! टैक्स में मिलेगी छूट !

आम बजट 2017 में अब बस दो हफ्ते का समय रह गया है और हर कोई बजट को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली से उम्मीद लगाए बैठा है. अगर कंज्यूमर सेक्टर की बात करें तो उसकी सबसे बड़ी उम्मीद कॉरपोरेट टैक्स में कमी को लेकर कदम उठाए जाने की ही है.

ऐलान तो हुआ मगर अमल नहीं
अरुण जेटली ने अपने दूसरे बजट भाषण में टैक्‍स प्रोत्साहनों को धीरे-धीरे खत्म करने तथा कॉरपोरेट टैक्‍स की दर को 30 से घटाकर 25 प्रतिशत करने की घोषणा की थी. हालांकि इस दिशा में सरकार ने कोई कदम अभी नहीं उठाया है. कंज्यूमर सेक्टर इस बात से खुश है कि आखिरकार जीएसटी अपने लागू होने के करीब पहुंच गया है, लेकिन कॉरपोरेट टैक्स घटाने के लिए वो अब भी सरकार की ओर उम्मीद भरी निगाहों से देख रहा है.

आयकर छूट बढ़े तो डिमांड में आए तेजी
माना जा रहा है कि नोटबंदी के चलते डिमांड घटने से कंज्यूमर सेक्टर को काफी झटका लगा है. हालात अब धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं लेकिन अगर सरकार इनकम टैक्स की सीमा बढ़ाती है और लोगों के हाथ में कुछ ज्यादा पैसा आता है तो इससे डिमांड बढ़ेगी और इस सेक्टर को उसका फायदा मिलेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें