scorecardresearch
 

अब ड्राइवर नहीं कर पाएगा Ola राइड कैंसिल, पहली क्लिक में मिलेगी कैब

ओला के मामले में यह आम बात है कि कैब बुक करने के बाद ड्राइवर फोन कर ड्रॉप लोकेशन या पेमेंट मोड के बारे में पूछने लगता है. कई बार ड्राइवर बताए गए लोकेशन पर जाने से मना कर राइड कैंसिल कर देता है. कैब ड्राइवर पैसेंजर्स से कैश में पेमेंट करने की भी डिमांड करते हैं.

X
कम होगी ओला के पैसेंजर्स की शिकायतें कम होगी ओला के पैसेंजर्स की शिकायतें
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पैसेंजर्स से कैश पेमेंट की डिमांड करते हैं Ola ड्राइवर
  • ड्रॉप लोकेशन पूछकर कर देते हैं राइड कैंसिल
  • राइडर्स को करनी पड़ती है बार-बार बुकिंग

एक जगह से दूसरी जगह जाने में ओला कैब (Ola Cab) का इस्तेमाल करने वाले पैसेजेंर्स को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा. कंपनी ने राइडर्स (Riders) को एक क्लिक में कैब (Cab Booking) उपलब्ध कराने के लिए नए फीचर दिए हैं. इसके बाद अब कैब ड्राइवर (Cab Driver)  पैसेंजर्स के साथ पेमेंट और लोकेशन की किचकिच नहीं करेगा. पैसेंजर्स को भी एक ही जगह पर खड़े होकर घंटों वेट करने और बार-बार कैब बुक करने की झंझट से छुटकारा मिल जाएगा.

पैसेंजर्स से कैश पेमेंट की डिमांड करते हैं ड्राइवर

कैब इस्तेमाल करने वाले लोगों की सबसे बड़ी शिकायत होती है कि ड्राइवर वेट कराने के बाद राइड कैंसिल (Ride Cancel) कर देता है. ओला के मामले में यह आम बात है कि कैब बुक करने के बाद ड्राइवर फोन कर ड्रॉप लोकेशन या पेमेंट मोड के बारे में पूछने लगता है. कई बार ड्राइवर बताए गए लोकेशन पर जाने से मना कर राइड कैंसिल कर देता है. कैब ड्राइवर पैसेंजर्स से कैश में पेमेंट करने की भी डिमांड करते हैं.

कई बार पैसेंजर्स को लग जाती है पेनाल्टी

इस चिकचिक में कई बार बिना वजह पैसेंजर्स का समय बर्बाद होता है. ड्राइवर के मना करने के बाद पैसेंजर्स को बार-बार कैब की बुकिंग भी करनी पड़ जाती है. कई मामलों में पैसेंजर्स को ही राइड कैंसिल करने पर मजबूर होना पड़ता है और बिना गलती के पेनाल्टी देना पड़ जाता है.

ओला सीईओ ने भी माना-यह सबसे बड़ी समस्या

अब ओला ने इसका समाधान निकाल लिया है. ओला के सीईओ भाविश अग्रवाल (Ola CEO Bhavish Aggarwal) ने खुद ही इसकी जानकारी दी. उन्होंने माना कि लोकेशन और पेमेंट मोड के कारण ड्राइवरों के द्वारा राइड कैंसिल करना कैब इंडस्ट्री की सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है. अग्रवाल ने कहा कि लोगों से मिली शिकायतों को दूर करने के लिए कंपनी ने नई पहल की है.

ओला ने किए हैं ये बदलाव

अब पैसेंजर के कैब बुक करने के बाद ड्राइवर को राइड एक्सेप्ट करने से पहले ही ड्रॉप लोकेशन की जानकारी मिल जाएगी. ड्राइवर को यह भी पता चल जाएगा कि पैसेंजर कैश में पेमेंट करने वाला है या डिजिटल.

पैसेंजर्स को अब इस बात की चिंता

ओला को उम्मीद है कि इस बदलाव के बाद पैसेंजर्स की परेशानियां कुछ कम होंगी. दूसरी ओर पैसेंजर्स को अब अलग ही चिंता सता रही है. अब इस बात का डर है कि ड्रॉप लोकेशन या पेमेंट मोड पहले ही दिख जाने के बाद कोई ड्राइवर राइड एक्सेप्ट ही नहीं करें. हालांकि इतना तो जरूर बदलेगा कि अब बार-बार कैब बुक करने का झंझट नहीं रहेगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें