scorecardresearch
 

Ola Scooter की क्वालिटी पर उठ रहे सवाल, सिंगल चार्ज में जा रही दावे से कम

फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के प्रेसीडेंट विंकेश गुलाटी ने ओला के बिक्री के आंकड़े को गलत बताया है. गुलाटी की मानें तो बुधवार तक ओला इलेक्ट्रिक ग्राहकों को मात्र 500 ई-स्कूटर बेच पाई है.

बिक्री के दावे पर उठ रहे सवाल बिक्री के दावे पर उठ रहे सवाल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बढ़ा-चढ़ाकर बिक्री दिखाने के लग रहे आरोप
  • बैटरी को लेकर FADA के पास आ रही शिकायतें

ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) का विवादों से पीछा ही नहीं छूट रहा है. हाल ही में लॉन्च ई-स्कूटरों (E-Scooter) की डिलीवरी में देरी के बाद पहले बिक्री के आंकड़ों पर सवाल उठे और अब क्वालिटी को लेकर शिकायतें आ रही हैं. कंपनी का दावा है कि वह तमिलनाडु स्थित अपने प्लांट से 4,000 यूनिट डिस्पैच कर चुकी है. दूसरी ओर वाहन डीलरों के एसोसिएशन FADA का कहना है कि वास्तव में अभी तक ओला सिर्फ 500 यूनिट ही बेच (Ola Total Sale) पाई है. डीलर एसोसिएशन ने बैटरी की रेंज दावे से काफी कम होने की शिकायत मिलने का भी आरोप लगाया है.

FADA का आरोप- कस्टमर कर रहे ये शिकायत

फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के प्रेसीडेंट विंकेश गुलाटी ने ओला के बिक्री के आंकड़े को गलत बताया है. गुलाटी की मानें तो बुधवार तक ओला इलेक्ट्रिक ग्राहकों को मात्र 500 ई-स्कूटर बेच पाई है. गुलाटी का यह भी कहना है कि कई ग्राहक क्वालिटी को लेकर भी FADA के पास शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं. ये शिकायतें बैटरी की कम रेंज, पैनल गैप्स और यूज्ड स्कूटर डिलीवर किए जाने के हैं.

ओला के दावे से कम है बैटरी की रेंज

गुलाटी ने कहा कि FADA अभी ग्राहकों से मिल रही शिकायतों को जमा कर रहा है. इसके बाद ओला इलेक्ट्रिक को इनका समाधान निकालने के लिए कहा जाएगा. अगर कंपनी इन शिकायतों को दूर नहीं करती है, तब FADA सरकार से हस्तक्षेप की मांग करेगा. कई ग्राहक शिकायत कर रहे हैं कि ओला स्कूटर की रेंज 135 किलोमीटर है, जबकि कंपनी एक बार फुल चार्ज करने पर 180 किलोमीटर रेंज का दावा कर रही है.

कंपनी ने दी है ये सफाई

इस बारे में ओला इलेक्ट्रिक का कहना है कि सरकार के वाहन पोर्टल (VAHAN Portal) पर सही डेटा आने में समय लग जाता है. इसी कारण बिक्री के आंकड़े गड़बड़ बताए जा रहे हैं. कई राज्य वाहन पोर्टल को रिपोर्ट नहीं करते हैं तो कई राज्यों में एक महीने के अस्थाई रजिस्ट्रेशन का नियम है. इस कारण सटीक डेटा आने में एक महीने तक का समय लग जाता है.

ओला ने अपनाया है बिक्री का टेस्ला मॉडल

उल्लेखनीय है कि ओला इलेक्ट्रिक अपने स्कूटर की बिक्री डीलरों के माध्यम से नहीं करती है. भारत में पहली बार कोई वाहन कंपनी डीलरों के माध्यम से नहीं जाकर सीधे ग्राहकों को बिक्री कर रही है. अमेरिका में टेस्ला ने सबसे पहले यह प्रयोग किया था. टेस्ला की तरह ओला भी सीधे ग्राहकों से बुकिंग लेती है और खुद ही डिलीवर करती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×