scorecardresearch
 

Customer Care मत समझना, अब इस तरह के नंबर से आ रहे ठग के कॉल!

Cyber Fraud: इस तरह ठगी का शिकार होने से बचने के लिए सावधानी सबसे जरूरी चीज है. कभी भी लोभ में न पड़ें. फोन पर किसी से कार्ड की कोई जानकारी शेयर नहीं करें. बैंक के कस्टमर केयर का नंबर सिर्फ आधिकारिक वेबसाइट से ही लें.

X
इन नंबरों से रहें सावधान इन नंबरों से रहें सावधान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कस्टमर केयर के नंबर से फोन कर हो रही ठगी
  • गूगल पर नंबर खोजना पड़ सकता है भारी

पिछले कुछ समय से ठगी के मामले तेजी से बढ़े हैं. शातिर ठग भोले-भाले लोगों की मेहनत की कमाई पर हाथ साफ करने के लिए तरह-तरह के तिकड़म अपनाते रहते हैं. बैंक का अधिकारी बनकर कॉल करना और जरूरी जानकारियां मांगना एक ऐसा ही तरीका है. ठग नंबर भी ऐसे यूज करते हैं जो देखने में कस्टमर केयर जैसे लगते हैं. इन्हीं मामलों को देखते हुए एसबीआई ने अपने ग्राहकों को आगाह किया है.

इन नंबरों से रहें सावधान

एसबीआई ने अपने ग्राहकों को मैसेज और ईमेल भेजकर सतर्क रहने को कहा है. मैसेज में दो नंबर भी दिए गए हैं. बैंक ने साफ कहा है, हम आपको कभी भी एसबीआई कार्ड हेल्पलाइन नंबर 18601801290 या 18001801290 से कॉल नहीं करेंगे. इससे मिलते-जुलते नंबरों को यूज कर रहे ठगों से सावधान रहें.

ठग कर रहे थे SBI Card के नंबर से फोन

हाल ही में फरीदाबाद में एक मामला सामने आया है, जिसमें शातिर ठगों का गिरोह एक ऐप के जरिए एसबीआई कार्ड के कस्टमर केयर नंबर से लोगों को कॉल करता था. अपराधी जस्टडायल से ग्राहकों का डेटा खरीदते थे और कस्टमर केयर नंबर से फोन कर नए क्रेडिट कार्ड में लिमिट ट्रांसफर करने का झांसा देते थे. इस तरह ठग ग्राहकों से उनके कार्ड का नंबर, सीवीवी और एक्सपायरी डेट जैसी जानकारियां ले लेते थे. इस मामले में पुलिस ने सात अपराधियों को गिरफ्तार भी किया है.

गूगल से कभी न निकालें कस्टमर केयर नंबर

कई ऐसे भी मामले सामने आए हैं, जिनमें लोगों को गूगल से कस्टमर केयर नंबर निकालना भारी पड़ गया. लोगों ने गूगल से कस्टमर केयर का जो नंबर निकाला, वह ठगों के गिरोह का था. लोगों ने असली कस्टमर केयर नंबर मानकर ठगों पर भरोसा किया और संवदेनशीन जानकारियां दे दी. इसके बाद ठगों ने उनके बैंक अकाउंट खाली कर दिए.

इन बातों का रखें हमेशा ध्यान

इस तरह ठगी का शिकार होने से बचने के लिए सावधानी सबसे जरूरी चीज है. कभी भी लोभ में न पड़ें. फोन पर किसी से कार्ड की कोई जानकारी शेयर नहीं करें. बैंक के कस्टमर केयर का नंबर सिर्फ आधिकारिक वेबसाइट से ही लें. बैंक के असली अधिकारी भी कभी ग्राहक से कार्ड की जानकारियां या ओटीपी नहीं मांगते हैं. अगर कोई आपसे ऐसी जानकारी मांगे तो तुरंत पुलिस के पास इसकी शिकायत करें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें