scorecardresearch
 

Maruti की कारें सेफ्टी में फिसड्डी, Swift के बाद अब इस कार को भी मिली Zero Rating!

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) की कारें सेफ्टी के लिहाज से फिसड्डी साबित हो रही हैं. कंपनी की 20 साल से लोकप्रिय कार स्विफ्ट (Swift) के बाद अब एक और कार को क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग मिली है. पढ़ें पूरी खबर...

X
Maruti की कारें सेफ्टी में फिसड्डी Maruti की कारें सेफ्टी में फिसड्डी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • व्यस्क और बच्चों दोनों की सुरक्षा में नाकाम
  • लैटिन अमेरिकी देशों के लिए किया गया टेस्ट
  • Tata Punch को मिली है 5-स्टार रेटिंग

मारुति सुजुकी इंडिया की लोकप्रिय कार Swift कुछ महीने पहले अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मानक ग्लोबल एनसीएपी (Global NCAP) के मानकों के हिसाब से क्रैश टेस्ट में असफल रही थी. अब कंपनी की कॉम्पैक्ट हैचबैक कार Baleno भी इसमें शामिल हो गई है.

Baleno की क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग

मारुति बलेनो में स्टैंडर्ड फीचर के तौर पर 2 एयरबैग आते हैं. इसके बावजूद देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी की इस कार को ग्लोबल एनसीएपी के क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग मिली है. 

Baleno की क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग
Baleno की क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग

लैटिन अमेरिकी और कैरिबियन दैशों के लिए लैटिन एनसीएपी (Latin NCAP) ने हाल में मारुति बलेनो की सुरक्षा से जुड़े टेस्ट किए. ग्लोबल एनसीएपी के बयान के मुताबिक इस कार का फ्रंट क्रैश, साइड क्रैश, कार में सवार लोगों के लिए किया जाने वाला व्हिपलाश और पैदल यात्री की सुरक्षा से जुड़े टेस्ट किए गए.

व्यस्क और बच्चों दोनों की सुरक्षा में नाकाम

Maruti Baleno के इस टेस्ट के परिणाम में पता चलता है कि ये कार एक व्यस्क को 20.03%, बच्चे को 17.06% ही सुरक्षित रखने में सक्षम है. वहीं सड़क पर चल रहे पैदल चलने वाले लोगों के लिए 64.06% सुरक्षा ही दे पाती है.

व्यस्क और बच्चों दोनों की सुरक्षा में नाकाम
व्यस्क और बच्चों दोनों की सुरक्षा में नाकाम

सामने से टक्कर होनी की स्थिति में गाड़ी का ढांचा स्थिर रहता है, जबकि साइड से टक्कर होने की स्थिति में इसकी सुरक्षा रेटिंग बहुत खराब है. वहीं व्हिप्लाश टेस्ट से पता चलता है कि ये कार में सवार लोगों की गर्दन को भी पर्याप्त सुरक्षा नहीं दे सकती हैँ

यूरोपीय मॉडल में अतिरिक्त सुरक्षा

बलेनो के यूरोपीय मॉडल में 6 एयरबैग स्टैंडर्ड के तौर पर आते हैं. जबकि लैटिन देशों के मॉडल में साइड और हेड एयरबैग नहीं हैं. इस तरह कंपनी के यूरोप को निर्यात होने वाले मॉडल में अतिरिक्त सुरक्षा रखी गई है.

ओवरऑल कंपनी की Swift के बाद अब Baleno को भी क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग मिली है.

Tata से कैसे करेगी मुकाबला

Tata Motors ने हाल में अपनी कारों को सुरक्षा के लिहाज से काफी मजबूत किया है. कंपनी की Altorz को सुरक्षा के लिहाज से ग्लोबल एनसीएपी की 5-स्टार रेटिंग मिली है. वहीं हाल में लॉन्च हुई उसकी Tata Punch को भी सेफ्टी के लिए 5-स्टार रेटिंग मिली है.

ये भी पढ़ें: 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें