scorecardresearch
 

PM Kisan Yojana: पीएम किसान योजना की वेबसाइट पर आई ये जानकारी आपने पढ़ी क्या? अगली किस्त पाने में आएगी काम!

PM Kisan Yojana Latest Update: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 12 करोड़ किसानों को अब तक 10 किस्तों का पैसा ट्रांसफर किया जा चुका है. लेटेस्ट अपडेट के अनुसार, किसानों के खाते में 11वीं किस्त किसी भी दिन किसानों के खाते में भेजी जा सकती है.

X
PM Kisan Yojana 11th Installment Update PM Kisan Yojana 11th Installment Update
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन किस्तों में किसानों के खाते में भेजी जाती है राशि
  • किसान योजना का लाभ लेने के लिए 31 मई तक करा लें e-KYC

PM Kisan Yojana 11th Installment Update: भारत में अभी भी 55 से 60 प्रतिशत आबादी की कमाई का स्रोत कृषि या उससे जुड़े व्यवसाय ही हैं. यही वजह है कि सरकार की तरफ से करोड़ों किसानों को आर्थिक मदद प्रदान करने के लिए कई तरह की योजनाएं लॉन्च की जाती रही है. इन्हीं योजनाओं में से एक योजना है प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना. इस योजना के तहत किसानों को हर साल 6 हजार रुपये की राशि दी जाती है.

बता दें कि किसानों के खाते में हर चार महीने के अंतराल में दो-दो हजार रुपये कर तीन किस्तों में किसानों के खाते में राशि प्रदान की जाती है..किसानों के खाते में अबतक इस योजना की 10 किस्तों का पैसा ट्रांसफर किया जा चुका है. लेटेस्ट अपडेट के अनुसार, किसानों के खाते में 11वीं किस्त किसी भी दिन भेजी जा सकती है.

किसी भी दिन आ सकती है 11वीं किस्त

उम्मीद जताई जा रही थी कि अप्रैल महीने में ही किस्त ट्रांसफर कर दी जाएगी, लेकिन कई किसानों की e-KYC की प्रकिया पूरा नहीं होने की वजह से इसमें देरी हो रही है. पीएम किसान योजना की पहली किस्त का पैसा एक अप्रैल से जुलाई के बीच भेजा जाता है. दूसरी किस्त अगस्त से नवंबर के बीच में आती है, जबकि तीसरी किस्त सरकार दिसंबर से मार्च महीने के बीच में ट्रांसफर करती है. बताते चलें कि पिछली किस्त का पैसा 1 जनवरी  2022 को भेजा गया था. 

अब 31 मई तक करवाएं ई-केवाईसी

10वीं किस्त के दौरान कई गड़बड़ियां सामने आई थीं. खबर ये भी आई थी कि किसानों के खाते में भी पैसा चला गया था जो इसके पात्र नहीं थे. अब पीएम किसान योजना की वेबसाइट पर लेटेस्ट खबर आई है कि 11वीं किस्त के लिए ई-केवाईसी अनिवार्य है. सरकार ने e-KYC की आखिरी तारीख बढ़ाकर 31 मई कर दी है. कुछ समय पहले आधार व ओटीपी के जरिए से होने वाली ई-केवाईसी को कुछ दिनों के लिए रोक दिया गया था, जिसके बाद फिर से शुरू कर दिया गया है. ऑनलाइन के अलावा किसान ऑफलाइन भी इस प्रकिया को पूरी करा सकते हैं. इसके लिए उन्हें नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर बॉयोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन के जरिए ये प्रकिया पूरी करानी पड़ेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें