scorecardresearch
 

इस राज्य में लॉन्च हुआ भारत का पहला ई फिश मार्केट ऐप, मछली पालकों को भी मिलेगा लाभ

E- Fish Market App: मत्स्य पालन ग्रामीण क्षेत्रों में एक मजबूत व्यवसाय उभर कर सामने आया है. कम लागत ज्यादा मुनाफे की वजह से कई किसान मछली पालन के व्यवसाय को अपना रहे हैं. असम ने मछली पालकों के लिए 'फिशवाले' ऐप लॉन्च किया है. जिसे भारत का पहला ई फिश मार्केट ऐप कहा जा रहा है.

E Fish Market App E Fish Market App
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असम ने लॉन्च किया ई- फिश मार्केट ऐप
  • मछली की ऑनलाइन मार्केटिंग में मददगार

E-Fish Market App: आर्थिक सुस्ती और कोरोना के दौरान दुनियाभर में अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है. भारतीय अर्थव्यवस्था भी इसकी मार से बच नहीं पाई. लेकिन अन्य देशों के मुकाबले भारत बेहतर स्थिति में रहा. विशेषज्ञों की मानें तो कोरोना के दौरान भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था के सुचारू रूप से चलने के कारण आर्थिक स्थिति ठीक-ठीक रही है. यही वजह है कि पिछले कुछ समय से ग्रामीण उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार की ओर से तमाम तरह की योजनाओं को लॉन्च किया गया है.

लॉन्च हुआ भारत का पहला ई-फिश मार्केट ऐप

इसी कड़ी में मत्स्य पालन ग्रामीण क्षेत्रों में एक मजबूत व्यवसाय उभर कर सामने आया है. कम लागत ज्यादा मुनाफे की वजह से कई किसान मछली पालन के व्यवसाय को अपना रहे हैं. असम ने मछली पालकों के लिए फिशवाले ऐप लॉन्च किया है. जिसे भारत का पहला ई फिश मार्केट ऐप कहा जा रहा है.

E-Fish Market App

खरीददार और विक्रेताओं को मिलेगा एक ही प्लेटफॉर्म

इस ऐप के माध्यम से खरीददारों और विक्रेताओं दोनों को मछली, जलीय कृषि उपकरण और दवा, मछली फ़ीड और मछली बीज ऑनलाइन एक ही प्लेटफॉर्म पर बेचने पर मदद मिलेगी. इस ऐप को राज्य के मत्स्य विभाग के सहयोग से एक्वा ब्लू ग्लोबल एक्वाकल्चर सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा विकसित किया गया था.

इस ऐप से मछली पालन समुदाय के सदस्यों को उनकी उपज का उचित मूल्य प्राप्त करने में मदद मिलेगी और बिचौलियों का सफाया होगा. साथ ही किसानों को मछली पालन के लिए तमाम आधारभूत सुविधाओं को जगह-जगह भटकना भी नहीं पड़ेगा.

 
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें