scorecardresearch
 

इराक में दरगाह पर मोर्टार एवं बंदूक से आतंकियों ने किया हमला, 30 लोगों की मौत

इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने बगदाद के उत्तर में एक शिया धार्मिक स्थल पर हमला किया जिससे 30 लोगों की मौत हो गई. आतंकवादियों ने धार्मिक स्थल पर मोर्टार एवं बंदूक की गोलियों से हमला किया और आत्मघाती हमलावरों ने विस्फोट किए.

धार्मिक स्थल को निशाना बनाकर हमला धार्मिक स्थल को निशाना बनाकर हमला

इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने बगदाद के उत्तर में एक शिया धार्मिक स्थल पर हमला किया जिससे 30 लोगों की मौत हो गई. आतंकवादियों ने धार्मिक स्थल पर मोर्टार एवं बंदूक की गोलियों से हमला किया और आत्मघाती हमलावरों ने विस्फोट किए.

हमले में 50 लोग घायल
इराक में संयुक्त अभियान कमान के प्रवक्ता ने एक बयान में बताया कि रात भर हुए इस हमले में 50 लोग घायल भी हुए. बयान में बताया गया है कि सैयद मोहम्मद धार्मिक स्थल पर पहले मोर्टार से हमला किया गया. इसके बाद आत्मघाती हमलावर धार्मिक स्थल पर पहुंचे और उन्होंने गोलीबारी की.

दो हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया
दरगाह के निकट बने एक बाजार में दो हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया जबकि तीसरा हमलावर मारा गया और उसकी विस्फोटक बेल्ट निष्क्रिय हो गई. बयान में यह नहीं बताया गया कि हमलावर को किन बलों ने मारा.

बगदाद में हुआ था बड़ा हमला
बगदाद के उत्तर में 70 किलोमीटर दूर बलद क्षेत्र में हुये इस हमले के पांच दिन पहले एक आत्मघाती हमलावर ने राजधानी में विस्फोटों से भरी एक मिनीबस में विस्फोट कर दिया था जिससे 292 लोगों की मौत हो गई थी. इराक में वर्ष 2003 में अमेरिका के नेतृत्व में हमले के बाद से इतना घातक हमला पहली बार हुआ था.

IS ने ली जिम्मेदारी
बगदाद पर हुए उस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें