scorecardresearch
 

सालों से तैयारी कर रहा था Ukraine, नागरिकों को रूसी हमलों से बचाने के लिए मेट्रो स्टेशन को बनाया शेल्टर

रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू हो गया है. राजधानी कीव में नागरिकों को मेट्रो स्टेशनों में बॉम्ब शेल्टर में जाने की अपील की गई है. यूक्रेन में पूर्वी यूरोप का सबसे बड़ा और सबसे पुराना अंडरग्राउंड नेटवर्क है.

X
रूसी हमलों से बचने के लिए मेट्रो स्टेशन के शेल्टर में जाते लोग. (फोटो-AFP) रूसी हमलों से बचने के लिए मेट्रो स्टेशन के शेल्टर में जाते लोग. (फोटो-AFP)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूक्रेन में सबसे बड़ा अंडरग्राउंड नेटवर्क
  • मेट्रो स्टेशनों पर शेल्टर के लिए जा रहे लोग

रूस और यूक्रेन के बीच जंग शुरू हो गई है. महीनों से दोनों देशों के बीच तनाव चल रहा था और आज सुबह राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ युद्ध का ऐलान कर दिया. इसके बाद यूक्रेन में मार्शल लॉ लागू कर दिया गया है. रूसी हमले से नागरिकों को बचाने के लिए राजधानी कीव में शेल्टर होम बनाए गए हैं. नागरिकों से इन शेल्टर में जाने की अपील की गई है. 

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, कीव के मेयर विताली क्लित्स्को ने लोगों से मेट्रो स्टेशन और सबवे में बनाए गए शेल्टर होम में जाने की अपील की है. कीव में अब तक साढ़े 4 हजार से ज्यादा शेल्टर होम बनाए गए हैं.

हजारों की संख्या में लोग शेल्टर ले रहे हैं. (फोटो-AFP)

ये भी पढ़ें-- Russia vs Ukraine: यूक्रेन पर रूस के मिसाइल हमले से कैसे मची तबाही, देखें पहली तस्वीरें

सालों से तैयारी कर रहा था यूक्रेन

रूस के हमलों से बचने के लिए यूक्रेन में सालों से ही ऐसे बॉम्ब शेल्टर बनाए जा रहे हैं, जो हवा से गिरने वाले बमों से नागरिकों को बचा सकते हैं. 

यूक्रेन में दुकानों, बार, मेट्रो स्टेशनों, अंडरपास, कोल्ड वार न्यूक्लियर शेल्टर और स्ट्रीप क्लब को शेल्टर होम में बदला गया है. 

हालांकि, अधिकारियों ने नागरिकों से अंडर ग्राउंड मेट्रो स्टेशनों में शेल्टर लेने को कहा है. यूक्रेन में पूर्वी यूरोप का सबसे बड़ा और सबसे पुराना अंडरग्राउंड नेटवर्क है. 

मेट्रो स्टेशन को बम हमलों से बचाने के लिए तैयार किया गया है. (फोटो-AFP)

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, मार्शल लॉ के लागू होते ही हजारों की संख्या में नागरिक मेट्रो स्टेशन में शेल्टर ले रहे हैं.

मेयर विताली क्लित्स्को ने स्थानीय मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया कि कीव मेट्रो स्टेशन प्रमुख बॉम्ब शेल्टर है, जहां लोग जा सकते हैं. उन्होंने बताया कि हमले की स्थिति में नागरिकों, स्कूली बच्चों को कैसे जाना है, इसकी ट्रेनिंग दी जा चुकी है.

कीव में 4500 शेल्टर बनाए गए हैं. (फोटो-AFP)

मेट्रो के साथ-साथ बॉम्ब शेल्टर भी

यूक्रेन में मेट्रो स्टेशनों को ऐसा तैयार किया गया है, जिसका इस्तेमाल बॉम्ब शेल्टर के तौर पर किया जा सके. कीव के रहने वाले एक नागरिक ने मीडिया को बताया कि कीव में सबवे का मतलब दो तरह से होता है, पहला तो यहां मेट्रो भी होती और दूसरा ये बॉम्ब शेल्टर भी होते हैं. इन्हीं सबवे के जरिए बच्चे बिना डरे स्कूल जाते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें