scorecardresearch
 

जापान में 6.7 तीव्रता का भूकंप, सड़क और रेल सेवा प्रभावित

जापान के उत्तर पश्चिमी हिस्‍से में मंगलवार रात भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूंकप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.7 मापी गई. इस कारण हजारों घरों की बिजली गुल हो गई. कुछ सड़कों को अस्थायी रूप से बंद करना पड़ा और रेल सेवाओं में रुकावट आई.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

जापान में मंगलवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए. जानकारी के मुताबिक उत्तर पश्चिमी हिस्‍से में मंगलवार रात आए भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.7 रही. भूकंप का केंद्र समुद्र के उस तट के पास था जो कि निगाता और यामागाता प्रान्तों को अलग करता है. जापानी मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने भूंकप की तीव्रता को देखते हुए सुनामी की चेतावनी जारी कर दी. हालांकि 3 घंटे बाद ही सुनामी अलर्ट हटा लिया गया. एजेंसी के रिकार्ड के मुताबिक, सुनामी की लहरें अवाशिमा, सकाता, साडो, वाजिमा और निगाता में देखी गईं, जहां वे 0.1 मीटर (चार इंच से कम) की अधिकतम ऊंचाई तक पहुंची.

भूकंप के कारण हजारों घरों की बिजली गुल हो गई. कुछ सड़कों को अस्थायी रूप से बंद करना पड़ा और रेल सेवाओं में रुकावट आई. इसके साथ ही बुलेट ट्रेन की भी सेवाएं रोक दी गई. बुलेट ट्रेनों के बंद होने से करबी 10,000 लोग प्रभावित हुए. अब तक मिली जानकारी में इस घटना से जान-माल की बड़ी क्षति की कोई खबर नहीं है. हालांकि जापानी मौसम विज्ञानी ने प्रभावित क्षेत्र में लोगों से इमारत के गिरने और भूस्खलन के जोखिम के कारण सतर्क रहने का आग्रह किया है क्योंकि इस तरह के और झटके आ सकते हैं. प्रभावित क्षेत्र के कुछ हिस्सों में बारिश की संभावना व्यक्त की गई है.

जापानी मौसम एजेंसी ने बताया कि भूकंप यामगता से लगभग 50 किलोमीटर दूर सकाता शहर के दक्षिण-पश्चिम में आया. भूकंप में घायलों और नुकसान का आकलन करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय में एक आपात प्रतिक्रिया टीम का गठन किया गया है.

बता दें कि जापानी अधिकारी अभी भी इमारतों की हालत की जांच कर रहे हैं, हालांकि अब तक आवासीय या प्रतिष्ठानों को कोई गंभीर ढांचागत नुकसान नहीं हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें