scorecardresearch
 

ईरान के राष्ट्रपति रूहानी बोले- अमेरिकी हस्तक्षेप से खाड़ी के मुद्दे हो रहे हैं जटिल

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा है कि खाड़ी क्षेत्र में अमेरिका सहित कुछ अन्य क्षेत्रीय देशों का हस्तक्षेप, इस क्षेत्र में समस्याओं को और अधिक जटिल बना रहा है. रविवार को कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के साथ टेलीफोन पर हुई बातचीत में रूहानी ने कहा कि अमेरिका और कुछ अन्य क्षेत्रीय देश, दुनिया को यह विश्वास दिलाने की कोशिश कर रहे हैं कि खाड़ी क्षेत्र असुरक्षित है.

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी (फाइल फोटो) ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी (फाइल फोटो)

अमेरिका और ईरान के बीच जारी संघर्ष थमने का नाम नहीं ले रहा है. मौजूदा दौर में दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है. इसलिए दोनों देश एक दूसरे पर वार करने का कोई भी मौका नहीं चूक रहे हैं.

अब ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमेरिका पर निशाना साधते हुए कहा है कि खाड़ी क्षेत्र में अमेरिका सहित कुछ अन्य क्षेत्रीय देशों का हस्तक्षेप, इस क्षेत्र में समस्याओं को और अधिक जटिल बना रहा है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, रविवार को कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के साथ टेलीफोन पर हुई बातचीत में रूहानी ने कहा कि अमेरिका और कुछ अन्य क्षेत्रीय देश, दुनिया को यह विश्वास दिलाने की कोशिश कर रहे हैं कि खाड़ी क्षेत्र असुरक्षित है.

वहीं प्रेस टीवी ने राष्ट्रपति रूहानी हवाले से कहा, "इस तरह के कदम क्षेत्र की समस्याओं को सिर्फ और अधिक जटिल और खतरनाक बनाते हैं." उन्होंने कहा, "ईरान खाड़ी क्षेत्र, होर्मुज के जलडमरूमध्य और ओमान के सागर की मजबूत सुरक्षा बनाए रखने को काफी महत्व देता है और इस संबंध में कोई कसर नहीं छोड़ता क्योंकि ईरान का मानना है कि इस क्षेत्र की सुरक्षा को बनाए रखने से यहां के क्षेत्रीय लोगों के विकास और हितों को सुनिश्चित किया जा सकेगा."

रूहानी ने जोर देकर कहा कि खाड़ी में स्थिरता और सुरक्षा का अनुभव सभी समुद्री राष्ट्रों के सहयोग से किया जा सकता है. वहीं रूहानी के इस रूख को अमेरिका और उसके सहयोगी देशों के खिलाफ खाड़ी क्षेत्र में लामबंदी की कोशिश के तौर भी देखा जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें