scorecardresearch
 

फंदे पर झूलती मिली थी भारतीय मूल की नर्स

ब्रिटेन के शाही परिवार की गर्भवती बहू केट मिडिलटन की देखभाल कर रही नर्स अस्पताल के अपने आवास में फांसी के फंदे पर लटकी पाई गई थी. जांच रिपोर्ट में गुरुवार को यह बात सामने आई है.

ब्रिटेन के शाही परिवार की गर्भवती बहू केट मिडिलटन की देखभाल कर रही नर्स अस्पताल के अपने आवास में फांसी के फंदे पर लटकी पाई गई थी. जांच रिपोर्ट में गुरुवार को यह बात सामने आई है.

पुलिस ने गुरुवार को कहा कि उसकी कलाई पर जख्म के निशान थे और वह तीन नोट छोड़ गई थी. साथ ही पुलिस ने किसी ‘संदिग्ध परिस्थिति’ से इंकार किया है.

डिटेक्टिव चीफ इंस्पेक्टर जेम्स हर्मन ने वेस्टमिन्स्टर कोरोनर की अदालत में बताया, ‘फिलहाल कोई भी संदिग्ध परिस्थिति नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘जेसिंथा सल्दानहा को एक सहकर्मी और एक सुरक्षा कर्मचारी ने फांसी से झूलता पाया. उनकी कलाई पर भी जख्म थे. लंदन एंबुलेंस सेवा को वहां बुलाया गया.’

खुद को महारानी और प्रिंस चार्ल्स बताकर उस अस्पताल में फर्जी कॉल करने वाले ऑस्ट्रेलिया रेडियो के दो प्रस्ताताओं ने 46 वर्षीय नर्स जेसिंथा साल्दानहा को फोन किया था जिसके तीन दिन बाद पिछले शुक्रवार को वह मृत पाई गई. उसने फोन को किंग एडवर्ड सप्तम अस्पताल में अपने एक सहकर्मी को स्थानांतरित कर दिया था जिसने केट की स्थिति के बारे में विस्तार से जानकारी दी थी.

वेस्टमिन्स्टर कोरोनर की अदालत में आज सुनवाई शुरू हुई, जहां बताया गया कि दो बच्चों की मां सल्दानहा अस्पताल के नजदीक अपने कक्ष में स्कार्फ से झूलती पाई गई थी.

सल्दानहा के एक कलाई पर जख्म के भी निशान थे.

हार्मन ने वेस्टमिन्स्टर कोरोनर की अदालत से कहा कि उनके कक्ष में दो नोट पाए गए और एक नोट उनके पास था. उन्होंने इसमें लिखी बातों का खुलासा नहीं किया. कोरोनर फियोना विलकॉक्स ने जांच जारी रहने के मद्देनजर सुनवाई 26 मार्च तक स्थगित कर दी.

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने बुधवार शाम सल्दानहा को श्रद्धांजलि दी और उनके परिजनों को सांत्वना दी.

कैमरन ने हाउस ऑफ कामंस में कहा, ‘स्पष्ट रूप से वह अपने काम से प्यार करती थी और अपने रोगियों के स्वास्थ्य का ख्याल रखती थी और जो कुछ हुआ है वह दुखद है. कई सबक सीखने की जरूरत है.’ इस बीच ऑस्ट्रेलिया की मीडिया निगरानी संस्था ने त्वरित जांच की शुरुआत की है जिसमें सिडनी के एक रेडियो स्टेशन से फर्जी कॉल किया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें