scorecardresearch
 

बोइंग-777 विमान की उड़ान पर लगाई गई रोक, ये है वजह

यूनाइटेड एयरलाइंस ने यह घोषणा उड़ान भरने के तुरंत बाद दाहिने इंजन के फटने के बाद डेनवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कराई गई आपात लैंडिग के बाद की है.

बोइंग 777 विमान पर रोक बोइंग 777 विमान पर रोक
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 777 मॉडल के विमानों पर लगेगी रोक
  • अमेरिकी विमान निर्माता बोइंग ने दी हिदायत

अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग ने सभी विमानन कंपनियों से 777 मॉडल के विमानों को इस्तेमाल नहीं करने की हिदायत दी है. दरअसल पिछले सप्ताह डेनवर में इस मॉडल के विमान का इंजन फेल हो गया था. अमेरिकी नियामक ने यूनाइटेड एयरलाइंस के उन विमानों का निरीक्षण किया था, जिसके बाद कंपनी ने यह निर्देश दिया था. यूनाइटेड एयरलाइंस ने रविवार को कहा कि वह अस्थायी रूप से इस मॉडल के विमानों को सेवा से हटा रहा है. 

यूनाइटेड एयरलाइंस ने यह घोषणा उड़ान भरने पर दाहिने इंजन के फटने के बाद डेनवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कराई गई आपात लैंडिंग के बाद की है. जाहिर है शनिवार को विमान में लगा प्रैट ऐंड व्हिटनी पीडब्ल्यू4000 इंजन टुकड़े-टुकड़े होने के बाद उपनगर के इलाकों में गिरा था. हालांकि, विमान को सुरक्षित उतार लिया गया, जिसमें 231 यात्री एवं चालक दल के 10 सदस्य सवार थे.

अमेरिकी संघीय उड्डयन प्रशासन (एफएए) के प्रशासक स्टीव डिकसन ने बयान जारी करते हुए कहा कि शुरुआती समीक्षा के आधार पर जानकारी मिली है कि इस मॉडल के विमानों में लगे पंखों के ब्लेड का निरीक्षण करने की बारंबरता बढ़ाने की जरूरत है जिसका इस्तेमाल केवल बोइंग 777 विमानों में होता है.

बयान में कहा गया कि संभवत: इसका मतलब है कि कुछ विमानों को खड़ा करने की जरूरत है. बोइंग ने कहा कि एफएए द्वारा निरीक्षण प्रक्रिया स्थापित किए जाने तक उन्हें ऐसा करना होगा.

वित्तीय अखबार निक्केई के मुताबिक जापान ने भी इस मॉडल के विमानों की उड़ान रोकने का आदेश दिया है. जापान के मुताबिक इसी श्रेणी के इंजन में गत वर्ष दिसंबर में समस्या आई थी.

बोइंग ने बयान में कहा कि 777 मॉडल के 69 विमान ऐसे हैं, जिनमें प्रैट ऐंड व्हिटनी-4000 इंजन लगे हैं और 112 इंजन सेवा में है जबकि इस मॉडल के 59 इंजन गोदाम में हैं.

एफएए के मुताबिक अमेरिकी विमानन कंपनी यूनाइटेड में इस मॉडल के 25 विमान सेवा में हैं जबकि जापान की दो विमानन कंपनियों में ऐसे 32 विमानों का परिचालन हो रहा था.

बोइंग ने रविवार को जारी बयान में कहा, 'हम नियामक के साथ काम कर रहे है और जब तक वे कार्रवाई करते हैं तब तक विमान उड़ान नहीं भरेंगे और इस श्रेणी के इंजनों की और जांच की जाएगी. इंजन निर्माता ने कहा कि वह जांचकर्ताओं के साथ काम करने के लिए टीम भेज रही है.
 

TAGS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें