scorecardresearch
 
विश्व

अफगानिस्तान के पहले उपराष्ट्रपति ने शेयर की ऐसी तस्वीर, पाकिस्तानी हुए आगबबूला

अमरुल्ला सालेह
  • 1/10

तालिबान के मसले पर अफगानिस्तान और पाकिस्तान आमने सामने हैं. अफगानिस्तान, पाकिस्तान पर लगातार तालिबान की मदद करने और शांति प्रक्रिया को बेपटरी करने का आरोप लगा रहा है. यह तनाव उस समय उभर कर सामने आ गया जब अफगानिस्तान के पहले उप राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान की एयरफोर्स तालिबान को अफगान सुरक्षा बलों के खिलाफ जंग में मदद कर रही है. अफगानिस्तान के पहले उप-राष्ट्रपति ने एक बार फिर ऐसी तस्वीर शेयर की है जिससे पाकिस्तान को मिर्ची लग सकती है.

(फोटो-Getty Images)

पाकिस्तान
  • 2/10

अब अफगानिस्तान के पहले उप राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने बांग्लादेश के नाम पर पाकिस्तान पर तंज कसा है. अमरुल्ला सालेह ने 1971 की भारत के हाथों पाकिस्तान को मिली हार और पूर्वी पाकिस्तान के स्वतंत्रता की तस्वीर शेयर कर पड़ोसी मुल्क पर कटाक्ष किया है. 1971 में पाकिस्तान से पूर्वी पाकिस्तान के अलग होने और बांग्लादेश के निर्माण में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का अहम योगदान था. 

(फोटो-India Today)

तालिबान
  • 3/10

अफगानिस्तान के पहले उप राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने 1971 की तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट किया, 'हमारे इतिहास में ऐसी कोई तस्वीर नहीं है और न कभी होगी. हां, कल मैं एक सेकंड के लिए हिल गया क्योंकि एक रॉकेट ऊपर से उड़ता हुआ आया और कुछ मीटर की दूरी पर जा गिरा. प्रिय पाक ट्विटर हमलावर, तालिबान और आतंकवाद इस तस्वीर के आघात को ठीक नहीं कर पाएंगे. कोई अन्य तरीका खोजें.'   

सालेह के इस ट्वीट को लेकर कई भारतीय सहमति जता रहे हैं तो वहीं तमाम पाकिस्तानी आगबबूला हो गए हैं. कुछ पाकिस्तानी यूजर्स रॉकेट हमले के दौरान उनके डरने का वीडियो भी शेयर कर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं.

(फोटो-Getty Images)

 

पाकिस्तान
  • 4/10

इससे पहले, अफगानिस्तान के उप-राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने कहा था कि पाकिस्तानी एयर फोर्स ने तालिबान के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर अफगान बलों को चेतावनी दी है. साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पाकिस्तान की एयर फोर्स तालिबान को एयर सपोर्ट मुहैया करा रही है. 

(फोटो-Getty Images)

 

 अमरुल्ला सालेह
  • 5/10

अमरुल्ला सालेह ने ट्वीट कर कहा कि पाकिस्तान की वायु सेना ने अफगानिस्तान की सेना और वायु सेना को आधिकारिक चेतावनी जारी की है कि स्पिन बोल्डक क्षेत्र से तालिबान को हटाने के किसी भी कदम का पाकिस्तान वायु सेना द्वारा सामना किया जाएगा. पाकिस्तान की वायु सेना अब तालिबान को कुछ इलाकों में नजदीकी हवाई सहायता मुहैया करा रही है. सालेह के आरोप को खारिज करते हुए पाकिस्तान ने इसे बेबुनियाद बताया था.

(फोटो-Getty Images)

तालिबान
  • 6/10

मंगलवार को ईद के मौके पर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने भी पाकिस्तान को आड़े हाथों लिया था. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी जमीन पर तालिबान शासन नहीं चाहता है. मगर उनका मीडिया अफगानिस्तान में तालिबान शासन के लिए अभियान चला रहा है. उन्होंने पाकिस्तान पर तालिबान नेतृत्व को पनाह देने और सहायता मुहैया कराने का आरोप लगाया. अफगान के सीमावर्ती शहर स्पिन बोल्डक में सबसे हालिया लड़ाई में तालिबान लड़ाकों को चमन में सीमा पार पाकिस्तानी अस्पताल में इलाज कराते देखा गया.

(फोटो-Getty Images)

अफगानिस्तान
  • 7/10

हाल ही में उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद में आयोजित सेंट्रल एंड साउथ एशिया कनेक्टिविटी कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान को कई मोर्चों पर सवालों का सामना करना पड़ा. तालिबान की मदद के करने के आरोप पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को सफाई देनी पड़ी. ताशकंद में तालिबान के मसले पर अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को घेरा था.

अशरफ गनी
  • 8/10

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकी गुटों के साथ अपने संबंध नहीं तोड़े हैं. इससे नाराज इमरान खान ने कहा कि अशरफ गनी के आरोप अनुचित हैं. तालिबान को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि पाकिस्तान ने इस्लामाबाद में आयोजित होने वाले 'अफगान पीस कॉन्फ्रेंस' को रद्द कर दिया.

(फोटो-Getty Images)
 

अफगानिस्तान
  • 9/10

माना जाता है कि पाकिस्तान अफगानिस्तान में शांति स्थापित करने में मुख्य भूमिका निभा सकता है. तालिबान नेतृत्व का मुख्यालय पाकिस्तान में है और इस्लामाबाद यह कहता रहा है कि वह अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर तालिबान को बातचीत की मेज पर लाएगा. तालिबान के कई नेता पाकिस्तान के मदरसों से निकले हैं. 

(फोटो-Getty Images) 

 

तालिबान
  • 10/10

हालांकि पाकिस्तान भी अफगानिस्तान सरकार पर निशाना साधता रहा है. पाकिस्तान आरोप लगाता है कि अफगानिस्तान ने एक अन्य आतंकवादी गुट पाकिस्तानी तालिबान यानी तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान को पनाहगाह मुहैया कराया है जिसने पाकिस्तानी सेना को निशाना बनाते हुए कई हमले किए हैं.

(फोटो-AP)