scorecardresearch
 

स्कूल बस में सोई बच्ची, खुली आंख तो गैरेज में पाई गई अकेली और फिर...

डब्ल्यूटीएई के अनुसार, पिट्सबर्ग पब्लिक स्कूल के प्रवक्ता ने कहा कि गुरुवार दोपहर जब वह अपने भाई-बहनों के साथ बस से नहीं उतरी तो लड़की के माता-पिता ने उसके लापता होने की सूचना दी.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्कूल में सोई बच्ची, आंख खुली तो गैरेज में थी अकेली
  • स्कूल प्रबंधन ने ड्राइवर को नौकरी से निकाला

अमेरिका के पेंसिल्वेनिया में कोरोना महामारी की वजह से महीनों से बंद स्कूल खुलने पर एक ऐसी घटना हुई जिसको लेकर बच्चों की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे. दरअसल एक प्राथमिक स्कूल की 5 साल की छात्रा रात को स्कूल बस के गैरेज में अकेली पाई गई. बताया जा रहा है कि बच्चों को घर पहुंचाए जाने के दौरान ही बच्ची सीट पर सो गई और किसी की उस पर नजर नहीं गई.

डब्ल्यूटीएई के अनुसार, पिट्सबर्ग पब्लिक स्कूल के प्रवक्ता ने कहा कि गुरुवार दोपहर जब वह अपने भाई-बहनों के साथ बस से नहीं उतरी तो लड़की के माता-पिता ने उसके लापता होने की सूचना दी.

मां-बाप की शिकायत पर स्टोव टाउनशिप पुलिस बच्ची को ढूंढने में जुट गई और इसी दौरान तलाशी लेने पर बच्ची स्कूल बस के गैरेज में पायी गई, जहां बच्चों को छोड़ने के बाद बस खड़ी की गई थी.

इसके बाद स्कूल प्रशासन ने बस के ड्राइवर पर कार्रवाई करते हुए उसे फौरन नौकरी से निकाल दिया. स्कूल महाप्रबंधक जोश ऑरिस ने कहा, "यह एक अक्षम्य अपराध है, यह हमारे सभी दफ्तरों में पोस्ट किया गया है, यह हमारे ड्राइवर हैंडबुक में है, बच्चे की जांच सबसे महत्वपूर्ण है, और इसे हल्के में नहीं लिया जा सकता है."

स्कूल ने ये भी बताया कि घटना की सूचना चाइल्डलाइन को दी गई. यह एक सरकारी योजना है जिसके तहत बाल शोषण और कल्याण संबंधी मुद्दों और चिंताओं का निपटारा किया जाता है.

ये भी पढ़ें:

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें