scorecardresearch
 

Ratan Tata-Shantanu Naidu: रतन टाटा की दो सबसे खास बातें, जानिए उनके 'यंग फ्रेंड' से

रतन टाटा (Ratan Tata) के असिस्टेंट शांतनु नायडू (Shantanu Naidu) कहते हैं कि टाटा रोजाना काफी लोगों की मदद करते हैं और फिर उसे भूल जाते हैं. बकौल शांतनु टाटा वादा करने के बाद किसी भी हाल में उसे पूरा करते हैं. 

X
रतन टाटा और शांतनु नायडू (Photo: Youtube) रतन टाटा और शांतनु नायडू (Photo: Youtube)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रतन टाटा के असिस्टेंट का शांतनु नायडू वीडियो
  • 28 साल के हैं शांतनु, बताई टाटा की खास बातें

देश के बड़े उद्योगपति और टाटा संस (Tata Sons) के मानद चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) के असिस्टेंट शांतनु नायडू (Shantanu Naidu) का एक इंटरव्यू चर्चा में है. इस इंटरव्यू में 28-वर्षीय शांतनु ने रतन टाटा के दो प्रमुख सिद्धांतों का खुलासा किया है. 

शांतनु नायडू कहते हैं कि रतन टाटा रोजाना काफी लोगों की मदद करते हैं और फिर उसे भूल जाते हैं. यानी उनके अच्छे काम पूरी तरह से निस्वार्थ होते हैं. बकौल शांतनु वह (टाटा) वादा करने के बाद किसी भी हाल में उसे पूरा करते हैं. 

मदद करने के बाद उसे भूल जाते हैं रतन टाटा:  शांतनु

इंटरव्यू के दौरान शांतनु नायडू ने बताया कि Ratan Tata की एक प्रमुख बात ये है कि वो एक दिन में कई अच्छे काम करते हैं, लोगों की मदद करते हैं, लेकिन बदले में कुछ भी वापस पाने की उम्मीद कभी नहीं करते. वो कहते हैं कि दयालुता के कृत्यों में वापसी की अपेक्षा नहीं होनी चाहिए. शांतनु ने कहा- 'वह (रतन टाटा) हर दिन इतने लोगों की मदद करेंगे और फिर उसे पूरी तरह से भूल जाएंगे.'

ये भी पढ़ें- केक खिलाया-कंधे पर हाथ रखा, कौन है Ratan Tata का ये यंग फ्रेंड? VIDEO

वादा निभाते हैं रतन टाटा:  शांतनु 

रतन टाटा के बारे में बात करते हुए उनके असिस्टेंट शांतनु कहते हैं कि उनकी (टाटा) दूसरी प्रमुख बात ये है कि वो हमेशा अपने वादे निभाते हैं. बकौल शांतनु- 'वह अपने सभी वादे हर हाल में निभाते हैं. वो वादे से कभी पीछे नहीं हटते. टाटा अपनी बात के बड़े पक्के हैं.'

कौन हैं शांतनु नायडू?

बता दें कि रतन टाटा के असिस्टेंट शांतनु नायडू (Ratan Tata Assistant Shantanu Naidu) अभी 28 साल के हैं. महाराष्ट्र निवासी शांतनु ने अमेरिका के प्रतिष्ठित कॉर्नेल विश्वविद्यालय से एमबीए की डिग्री ली है. नायडू ने रतन टाटा के साथ अपने अनुभव के बारे में 'I Came Upon a Lighthouse' नामक एक किताब भी लिखी है. नायडू जुलाई 2018 से रतन टाटा के ऑफिस में डिप्टी जनरल मैनेजर के तौर पर कार्यरत हैं. आवारा कुत्तों के लिए किए गए काम की वजह से शांतनु रतन टाटा के करीब आए. 

हाल ही में हाल ही में Ratan Tata का बर्थडे सेलिब्रेशन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें शांतनु नायडू की टाटा के साथ एक तस्वीर वायरल हुई थी. तस्वीर में शांतनु ने रतन टाटा के कंधे पर हाथ रखा हुआ था. सोशल मीडिया पर कई लोगों ने उन्हें टाटा का 'यंग फ्रेंड' बताया था. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें