scorecardresearch
 

राजस्थान: वायुसेना ने दिखाया दम, Pak बॉर्डर से 40KM दूर हाइवे पर उतारे गए फाइटर प्लेन, Video

भारत-पाकिस्तान सरहद क्षेत्र से गुजरने वाली हाईवे पर जालोर जिले के चितलवाना क्षेत्र के अगडावा में रनवे तैयार किया गया है. इस हाइवे के रनवे पर बुधवार को फाइटर प्लेन की लैंडिंग और टेक ऑफ कराया गया.

X
हाइवे पर फाइटर प्लेन की लैंडिंग कराई गई
हाइवे पर फाइटर प्लेन की लैंडिंग कराई गई
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विमानों की लैंडिंग का हुआ ट्रायल रन
  • 9 सितंबर को होगा रनवे का उद्घाटन

यमुना एक्सप्रेस-वे के अलावा एक और हाइवे पर भारतीय वायु सेना के फाइटर प्लेन की इमरजेंसी लैंडिंग हो सकती है. युद्ध या किसी आपात काल के मौके पर इस हाइवे का इस्तेमाल बतौर हवाई पट्टी किया जा सकेगा. राजस्थान के जालोर जिले में भारतमाला परियोजना के तहत बने हाईवे पर आज सुखोई सरीखे फाइटर प्लेन की लैंडिंग कराई गई.

भारत-पाकिस्तान सरहद क्षेत्र से गुजरने वाली हाईवे पर जालोर जिले के चितलवाना क्षेत्र के अगडावा में रनवे तैयार किया गया है. इस हाइवे के रनवे पर आज फाइटर प्लेन की लैंडिंग और टेक ऑफ कराया गया. सुबह 7:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक हाइवे पर आवागमन को बंद करवा दिया गया था.

कल (9 सितंबर) भारतमाला परियोजना के तहत बने हाइवे पर फाइटर प्लेन रनवे का उद्घाटन किया जाएगा, जिसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी शिरकत करेंगे. इससे पहले ट्रायल रन किया गया. इससे पहले एयरफोर्स के दो हेलीकॉप्टर की लैंडिंग करवाई गई थी. 

युद्ध और आपात स्थिति में फाइटर प्लेन को हाईवे पर उतारकर वायुसेना कुछ ऑपरेशन्स को सफलता पूर्वक अंजाम दे सकती है. इसी के तहत रक्षा मंत्रालय और रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री ने इस योजना पर काम शुरू किया है. इसी के तहत चितलवाना में बने NH 925 ए के निर्माण के दौरान अगड़ावा में 5 किलोमीटर लंबी हवाई पट्टी का निर्माण किया गया है. 

वायुसेना के अधिकारियों के मुताबिक, बुधवार सुबह 7:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक फाइटर प्लेन की लैंडिंग करवाई गई और रनवे की टेस्टिंग की जा रही है. इस हवाई पट्टी को बनाने में 32.95 करोड़ रुपए लागत आई. भारत-पाकिस्तान बॉर्डर से महज 40 किलोमीटर दूरी पर यह हवाई पट्टी बनाई गई है. 

हवाई पट्टी के दोनों सिरों पर 40 गुणा 180 मीटर की दो पार्किंग भी बनाई गई है, ताकि फाइटर प्लेन को पार्किंग में रखा जा सके. इसके अलावा 25 गुणा 65 मीटर आकार की एटीसी प्लिंथ का डबल मंजिला एटीसी केबिन के साथ निर्माण किया गया है, जो पूरी तरह से वॉश रूम सुविधायुक्त है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें