scorecardresearch
 

UP: बिना दुल्हन विदा कराए चली गई थी बारात, पुलिस ने किया यह काम, लोग बोले- रब ने बना दी जोड़ी

यूपी के महोबा जिले के अजनर थाना प्रभारी लाखन सिंह को जैसे ही शादी के टूटने की सूचना मिली वो तुरंत ही बारात के पीछे निकल गए और देवरी बांध में बारात को रोककर वापस गांव ले आए. फिर दोनों ही पक्षों को बैठकर अच्छी तरह से समझाया और रिश्ते को टूटने से बचाया. हर तरफ पुलिस के इस कदम की तारीफ हो रही है.

X
पुलिस ने टूटे रिश्ते को फिर से जोड़ दिया पुलिस ने टूटे रिश्ते को फिर से जोड़ दिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महोबा में टूटी शादी को पुलिस ने फिर से जोड़ा
  • पुलिस ने लड़की और लड़के पक्ष को समझाया
  • थाना प्रभारी लाखन सिंह ने पूरी कराईं रस्में

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में पुलिस का मानवीय चेहरा देखने को मिला है. पुलिस ने आखिरी मौके पर पहुंचकर टूट रही शादी को फिर से जोड़ दिया. दरअसल दुल्हन के बिना लौट रही बारात को पुलिस ने रोककर दूल्हे को मनाया और टूटी हुई जोड़ी को मिलवा दिया. यह घटना पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है. अब लोग बोल रहे हैं रब ने बना दी जोड़ी.  

महोबा में पुलिस ने बना दी जोड़ी

यह मामला महोबा जिले के अजनर थाना क्षेत्र के ग्राम बघौरा का है. यहां मंगलवार रात दुल्हन को बिना विदा कराए ही वापस लौट गई बारात को पुलिस की सूझबूझ से वापस बुलाया गया. बराती और धराती पक्ष के बीच समझौता कराकर शादी को संपन्न कराया गया. पुलिस की सूझबूझ की वजह से बेरंग शादी में रौनक वापस  लौट आई.  

 

पुलिस ने टूटे रिश्ते को फिर से जोड़ दिया
पुलिस ने टूटे रिश्ते को फिर से जोड़ दिया

दोनों पक्षों में खाने को लेकर हुआ था विवाद

बता दें कि बघौरा गांव में रहने वाले पप्पू अनुरागी की बेटी संगीता का विवाह मुकेश पुत्र राजकुमार अनुरागी से तय हुआ था. झांसी जनपद से बारात गांव  बघौरा पहुंची और शादी की रस्में होने लगी.  लेकिन शादी में खाना खाने को लेकर बाराती और लड़की पक्ष में कुछ विवाद हो गया. दोनों पक्षों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि बारात बिना बहू को विदा किये रस्मों को अधूरा छोड़कर मौके से चली गई.  

पुलिस ने समझाकर पूरी कराईं शादी की रस्में

इस घटना की सूचना जैसे ही अजनर थाना प्रभारी लाखन सिंह को मिली. वो तुरंत ही बारात के पीछे निकल गए और देवरी बांध में बारात को रोककर वापस गांव ले आए. फिर दोनों ही पक्षों को बैठकर अच्छी तरह से समझाया और रिश्ते को टूटने से बचाया. हर तरफ पुलिस के इस कदम की प्रशंसा हो रही है.  गांव वाले थाना प्रभारी लाखन सिंह को धन्यवाद दे रहे हैं. 

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें