scorecardresearch
 

'प्राइवेट जेट में मसाज के दौरान यौन शोषण, दिए 2 करोड़', एलन मस्क पर आरोप

महिला ने कहा- एलन मस्क, दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. इतना शक्तिशाली शख्स किसी को नुकसान पहुंचाता है और फिर पैसे फेंक कर मामले को निपटाना चाहता है. यह गैर-जिम्मेदाराना है.

X
एलन मस्क पर लगा यौन शोषण का आरोप (Credit- Reuters)
एलन मस्क पर लगा यौन शोषण का आरोप (Credit- Reuters)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • SpaceX में काम करती थी महिला
  • 2018 में महिला ने मस्क के खिलाफ की थी शिकायत

दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क पर एक महिला कर्मचारी के साथ यौन शोषण का आरोप लगा है. इस मामले के निपटारे के लिए साल 2018 में महिला को 2 करोड़ रुपए भी दिए गए थे. यह महिला मस्क के एयरोस्पेस फर्म SpaceX में फ्लाइट अटेंडेंट का काम करती थीं. Business Insider ने एक रिपोर्ट में ये दावा किया है. आरोप को लेकर मस्क की प्रतिक्रिया भी आई है. 

महिला अटेंडेंट SpaceX के कॉरपोरेट जेट फ्लीट के केबिन क्रू की मेंबर थीं. वह कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर काम करती थीं. Business Insider की एक रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने मस्क पर प्राइवेट पार्ट दिखाने और बिना अनुमति के उसके पैर सहलाने का आरोप लगाया. इसके अलावा मस्क ने महिला को इरोटिक मसाज के बदले एक घोड़े खरीद देने का ऑफर दिया था.

मामला साल 2016 का है. यह आरोप अटेंडेंट की फ्रेंड ने एक घोषणापत्र जारी कर लगाया है. जो कि महिला के सपोर्ट में तैयार किया गया है. घोषणापत्र के मुताबिक, अटेंडेंट ने फ्रेंड को बताया कि फ्लाइट अटेंडेंट की जॉब शुरू करने के बाद उन्हें मसाज प्रोफेशनल का लाइसेंस लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया. ऐसा इसलिए ताकि वह मस्क को मसाज दे सके. जिसके बाद मस्क के प्राइवेट कैबिन में एक मसाज के दौरान मस्क ने अटेंडेंट से सेक्स के लिए पूछा.

बता दें कि समझौते के तहत पीड़ित महिला ने Non-disclosure agreement पर साइन किए हैं.

अटेंडेंट को दिया गया करीब 2 करोड़ रुपए

elon musk

लेकिन मस्क की ओर सेक्शुअल डिमांड किए जाने के बाद अटेंडेंट ने मस्क को मना कर दिया था. रिपोर्ट के मुताबिक, इसके बाद अटेंडेंट को ऐसा महसूस होने लगा कि काम के दौरान उसे सजा दी जा रही है. 

साल 2018 में अटेंडेंट ने कैलिफोर्निया के एक वकील को हायर किया और इस मामले को लेकर उन्होंने कंपनी के ह्यूमन रिसोर्स डिपार्टमेंट में एक शिकायत दर्ज करवा दी. मामले को लेकर कंपनी ने अटेंडेंट के दोस्त से बात की और जल्द ही इसका निपटारा करवा दिया.

यह मामला कभी कोर्ट नहीं पहुंचा. नवंबर 2018 में एक समझौता हुआ, जिसमें इस मामले को लेकर केस न करने के बदले अटेंडेंट को करीब 2 करोड़ रुपए दिए गए. उन्हें इस मामले को गुप्त रखने को भी कहा गया.

अटेंडेंट की दोस्त ने क्यों उजागर किया मामला?

रिपोर्ट में अटेंडेंट की दोस्त ने कहा कि मैं इस एग्रीमेंट का हिस्सा नहीं थी. तो मैं इस बारे में बात कर सकती हूं. मैंने अपनी दोस्त को बताए बिना ही इसके बारे में बोलने का फैसला किया है.

उन्होंने कहा- मस्क, दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. इतना शक्तिशाली शख्स किसी को नुकसान पहुंचाता है और फिर पैसे फेंक कर मामले को निपटाना चाहता है. यह गैर-जिम्मेदाराना है.

अटेंडेंट की दोस्त ने कहा- जब आप चुप रहने का फैसला कर लेते हैं, तो आप उस सिस्टम का हिस्सा हो जाते हैं. आप उस मशीन का हिस्सा बन जाते हैं जो मस्क जैसे शख्स को ऐसे गलत काम करने की इजाजत देता है.

आरोप पर मस्क ने क्या कहा?

रिपोर्ट के मुताबिक, जब इस मामले पर मस्क के कमेंट के लिए उन्हें मेल किया गया तो उन्होंने पहले तो और टाइम मांगा और कहा कि इस स्टोरी में अभी बहुत सारी बातें और भी हैं. उन्होंने लिखा- अगर मैं यौन शोषण जैसी चीजों में लिप्त होता, तो मेरे 30 साल के करियर में इससे पहले कोई मामले क्यों नहीं आए. उन्होंने इस स्टोरी को 'राजनीति से प्रेरित एक हिट पीस' बताया.

इस मामले को लेकर मस्क ने दो ट्वीट भी किए. पहले में उन्होंने लिखा- मेरे ऊपर लगे आरोपों को राजनीति के चश्मे से देखा जाना चाहिए. ये उनका स्टैंडर्ड (घिनौना) प्लेबुक है. लेकिन अच्छे भविष्य और फ्री स्पीच के आपके अधिकार की लड़ाई से मुझे कोई भटका नहीं सकता.

वहीं उन्होंने साल 2021 के अपने एक ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा- आखिरकार, हम इस स्कैंडल के लिए एलनगेट नाम का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह एक तरह से परफेक्ट है.

जब इस मामले को लेकर SpaceX के लीगल वाइस प्रेसीडेंट क्रिस्टोफर कार्डासी से बातचीत की गई. तो उन्होंने कहा- मैं किसी सेटलमेंट एग्रीमेंट के बारे में कुछ नहीं बोलने वाला हूं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें