scorecardresearch
 

'पैसे लगाओ, खूब पैसे बनाओ', जानें फर्स्ट Bitcoin City के बारे में 5 खास बातें

El Salvador ने दुनिया का पहला 'बिटकॉइन सिटी' बनाने की योजना बनाई है. Bitcoin City के निवासियों को कोई आय, संपत्ति, पूंजीगत लाभ या पेरोल कर भी नहीं देना होगा.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • El Salvador ने किया ऐलान
  • जल्द बनेगी पहली Bitcoin City

भारत में Bitcoin समेत कई प्राइवेट क्रिप्टो करेंसी पर बैन लगने की खबरों के बीच दुनिया का एक देश अपने यहां First Bitcoin City बनाने की तैयारी कर रहा है. इस देश का नाम है El Salvador. राष्ट्रपति नायब बुकेले का कहना है कि यहां निवेश करें और अपनी इच्छानुसार खूब पैसे कमाएं.

अल साल्वाडोर ने दुनिया का पहला 'बिटकॉइन सिटी' बनाने की योजना बनाई है, जिसे शुरू में बिटकॉइन-समर्थित बॉन्ड द्वारा वित्त पोषित किया गया था. राष्ट्रपति नायब बुकेले ने शनिवार को कहा, 'मध्य अमेरिकी देश में निवेश को बढ़ावा देने के लिए क्रिप्टो मुद्रा का उपयोग करने के लिए अपनी शर्त को दोगुना कर दिया.'

Bitcoin City में नहीं लगेगा कोई टैक्स

अल साल्वाडोर में बिटकॉइन के एक सप्ताह के लंबे प्रचार के आखिरी दिन राष्ट्रपति नायब बुकेले ने कहा कि ला यूनियन के पूर्वी क्षेत्र में नियोजित शहर को ज्वालामुखी से भू-तापीय ऊर्जा मिलेगी और मूल्य वर्धित कर (वैट) को छोड़कर कोई कर नहीं लगाया जाएगा. उन्होंने कहा कि यहां निवेश करें और अपनी इच्छानुसार खूब पैसे कमाएं.

एल साल्वाडोर, बिटकॉइन को कानूनी मान्यता देने वाला एकमात्र देश, जो अब सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन के आधार पर एक पूरे शहर का निर्माण करने की योजना बना रहा है. अल साल्वाडोर के 'बिटकॉइन सिटी' को 1 बिलियन डॉलर के बिटकॉइन बॉन्ड जारी करने के साथ वित्त पोषित किया जाएगा.

यह शहर फोन्सेका की खाड़ी के किनारे एक ज्वालामुखी के पास स्थित होगा. बुकेले का प्रशासन देश के आर्थिक विकास और निवेश को बढ़ावा देने के लिए बिटकॉइन पर भरोसा कर रहा है, यह मानते हुए कि बिटकॉइन की कीमत समग्र रूप से ऊपर की ओर बनी हुई है.

Bitcoin City के बारे में 5 खास बातें

- अल साल्वाडोर के राष्ट्रपति नायब बुकेले की योजना के अनुसार Bitcoin City एक सर्कल (एक सिक्के की तरह) की आकार को होगा. शहर के केंद्र में एक प्लाजा होगा जो एक विशाल बिटकॉइन प्रतीक की तरह होगा.

- देश की भू-तापीय ऊर्जा का लाभ उठाने के लिए शहर को कोंचागुआ ज्वालामुखी के पास बनाया जाएगा. शहर और क्रिप्टोकरेंसी खनन दोनों को शक्ति देने के लिए ज्वालामुखी की एनर्जी का इस्तेमाल किया जाएगा.

- नायब बुकेले के अनुसार, Bitcoin City के निवासियों को कोई आय, संपत्ति, पूंजीगत लाभ या पेरोल कर भी नहीं देना होगा. शहर का निर्माण विदेशी निवेश को ध्यान में रखकर किया जाएगा.

- Bitcoin City में आवासीय क्षेत्र, मॉल, रेस्तरां और एक बंदरगाह होगा. इसके अलावा देश के पास डिजिटल शिक्षा, प्रौद्योगिकी और टिकाऊ सार्वजनिक परिवहन तक पहुंच होगी.

- राष्ट्रपति नायब बुकेले ने बताया कि Bitcoin City में कोई संपत्ति, आय या नगरपालिका कर नहीं होगा और शहर में शून्य कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन होगा. हालांकि Bitcoin City के निर्माण की डेडलाइन अभी नहीं जारी की गई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें