scorecardresearch
 

वेश्‍याओं के लिए क्रैश कोर्स, वीडियो हुआ वायरल

अपने ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए इंटरनेट का इस्‍तेमाल कैसे किया जाए, इस पर क्रैश कोर्स कराना अच्‍छी बात है. लेकिन क्‍या वेश्‍यावृत्ति के लिए भी ये सही है?

अपने ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए इंटरनेट का इस्‍तेमाल कैसे किया जाए, इस पर क्रैश कोर्स कराना अच्‍छी बात है. लेकिन क्‍या वेश्‍यावृत्ति के लिए भी ये सही है?

जी हां, चीन का ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें 10 चीनी वेश्‍याएं अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए इंटरनेट का क्रैश कोर्स कर रही हैं. इस दो मिनट के वीडियो में सूट-बूट पहना हुआ इंस्‍ट्रक्‍टर लड़कियों को बता रहा है कि कोर्स के दौरान उन्‍हें प्रैक्टिकल जानकारी दी जाएगी, जिसका इस्‍तेमाल वे अपने ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कर सकती हैं.

इंस्‍ट्रक्‍टर कहता है, 'ग्राहकों का विस्‍तार करने के लिए मैं आपको बताऊंगा कि कैसे सोशल नेटवर्किंग मीडिया का इस्‍तेमाल किया जाए.'

हालांकि इस वीडियो की प्रमाणिकता के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है, लेकिन यह तेजी से यूट्यूब पर वायरल हो गया है. माना जा रहा है कि क्‍लास में मौजूद किसी लड़की ने अपने मोबाइल से इस वीडियो को रिकॉर्ड कर लिया होगा.

इंस्‍ट्रक्‍टर किसी चीनी सोशल नेटवर्किंग साइट पर मौजूद एक लड़की की प्रोफाइल फोटो का उदाहरण देते हुए कहता है, 'आप इस लड़की को देखो. इसका मेकअप बहुत अच्‍छा है. यह जवान और हसीन लग रही है. खासकर इसकी आंखें बहुत प्‍यारी हैं.'

गौरतलब है कि चीन में वेश्‍यावृत्ति गैरकानूनी है, लेकिन यहां के छोटे शहरों में भी रेड लाइट इलाके मौजूद हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें