scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 KM चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 किलोमीटर चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार
  • 1/5

मध्य प्रदेश के नीमच ज‍िले में गांधी सागर डूब क्षेत्र से एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें किसान ट्रैक्टर को पानी पर चला रहे हैं. दरअसल, यह वीडियो डूब क्षेत्र के गांव लोटवास का है, जहां पुराना गांव लोटवास जो बांध में पानी भरने के बाद जल मग्न हो जाता है मगर जैसे-जैसे बांध का पानी उतरता है वैसे-वैसे पुराने गांव लोटवास की कृषि के काबिल जमीन खाली हो जाती है जिस पर किसान मार्च के प्रथम सप्ताह तक खरबूजे की फसल बोते हैं.

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 किलोमीटर चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार
  • 2/5

पुराने गांव लोटवास और डूब विस्थापित गांव लोटवास के बीच करीब 2 से डेढ़ किमी अभी भी बांध का पानी भरा है. ऐसे में खेतों की जुताई के लिए ट्रैक्टर ले जाना मुनासिब नहीं है.

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 किलोमीटर चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार
  • 3/5

किसान बांध में परमिट पर चल रहे बड़े मोटर बोट में ट्रैक्टर ले जा सकते है मगर उसका भाड़ा हजारों में आता है. ऐसे में गांव के युवा किसानों में ट्रैक्टर में आगे-पीछे 12 ड्रम लगाए और ट्रैक्टर को पानी में उतारा.

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 किलोमीटर चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार
  • 4/5

गहराई में जाते ही ट्रैक्टर पानी में तैरने लगा. ट्रैक्टर पर तीन किसान सवार हो गए और अतिरिक्त डीजल भी ट्रैक्टर में लिया ताकि रास्ते में परेशानी नहीं आए. साथ ही ट्रैक्टर के 2 बड़े ट्यूब भी साथ लिए और वो सभी आवश्यक सामग्री जो पानी में आपातकाल में बचा जा सके.

अनोखा जुगाड़: चंबल नदी में 2 किलोमीटर चला कर ले गए ट्रैक्टर, 12 ड्रम की मदद से डेढ़ घंटे में हो गए पार
  • 5/5

उसके बाद ट्रैक्टर को स्टार्ट कर के मंजिल का रुख कर लिया. साथ में बड़े-बड़े बांस भी लिए ताकि ट्रैक्टर को सही दिशा में चलाया जा सके. इस दौरान ट्रैक्टर के साथ ट्रॉली नहीं थी सिर्फ हकाई का यंत्र लगा हुआ था. इस तरह से किसानों ने लोटवास गांव से पुराने गांव लोटवास के बीच की 2 किमी की दूरी ट्रैक्टर से डेड़ घण्टे में तय कर के ट्रैक्टर सुरक्षित उतार लिया और खेतों में जुताई कर ली. ट्रैक्टर पानी में चलते समय किसानों ने वीडियो भी बनाया जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.